मप्र पौधारोपण: 6 करोड़ में से मात्र 10 लाख लोग शिवराज के साथ

Thursday, June 29, 2017

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान नर्मदा किनारे 2 जुलाई को एक दिन में 6 करोड़ पौधे रोपने का ऐलान किया था। पहले इसे जनआंदोलन कहा गया। जब ठंडा रेस्पांस रहा तो अधिकारियों पर टारगेट डाल दिए गए। कलेक्टरों ने भी हाथ खींच लिए तो तय किया गया कि सारे प्रदेश में पौधारोपण कर लेंगे। 6 करोड़ की आबादी वाले मध्यप्रदेश में एक व्यक्ति एक पौधा लगाएगा तो 'वर्ल्ड रिकॉर्ड' बन जाएगा। गिनीज बुक आॅफ वर्ल्ड रिकॉर्ड वालों को बुलवा लिया लेकिन अब जनता ने भी साथ छोड़ दिया। 6 करोड़ के विरुद्ध मात्र 10 लाख लोगों ने अपने रजिस्ट्रेशन कराए हैं। हालात यह हैं कि शिवराज सिंह के ताकतवर मंत्री ​जयंत मलैया और महिला मंत्री अर्चना चिटनीस के क्षेत्र से 2000 रजिस्ट्रेशन भी नहीं हुए। सवाल यह है कि क्या 2 जुलाई को एक व्यक्ति 60 पौधे लगाएगा। क्या वो ऐसा कर पाएगा वो भी तब जबकि इस लिस्ट में फोटो खिंचाऊ नेताओं की संख्या सबसे ज्यादा है। 

राज्य सरकार ने जोर-शोर से पौधरोपण के पंजीयन के लिए नमामि देवी नर्मदे वेबसाइट लॉन्च की थी। मुख्यमंत्री ने कहा था कि रजिस्ट्रेशन करने वाले लोग पौधरोपण करेंगे। इस वेबसाइट पर करीब साढ़े पांच लाख लोगों ने और ऑफलाइन साढ़े चार लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। सरकारी अधिकारियों का दावा है कि कि एक व्यक्ति 25 पौधे रौपेगा लेकिन रजिस्ट्रेशन कम होने से सरकार भी चिंता में पड़ गई है लेकिन अब तो यह दावा भी घाटे में जाता दिखाई दे रहा है।

पौधरोपण तो कर्मचारी कर लेंगे, जिनकी इच्छा हो वे जाएं
एक तरफ मुख्यमंत्री शिवराज ने पौधरोपण अभियान को जनआंदोलन बनाने की बात कही है, वहीं जन अभियान परिषद के कार्यकारी संचालक उमेश शर्मा से इस बारे में जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि रजिस्ट्रेशन इसलिए कराया गया, ताकि लोग भावनात्मक रूप से जुड़ें। पौधरोपण तो सरकार के लोग कर लेंगे, जिनकी इच्छा हो वे जाकर कार्यक्रम में हिस्सा ले सकते हैं।

मंत्री मलैया और चिटनीस के इलाके में सबसे ज्यादा बेरुखी
पौधरोपण के लिए बुरहानपुर से सिर्फ 1692 और दमोह से 1789 रजिस्ट्रेशन हुए हैं। वहीं सबसे ज्यादा रजिस्ट्रेशन जबलपुर से हुए हैं, यहां 71 हजार रजिस्ट्रेशन हुए हैं। पौधरोपण के लिए वेबसाइट पर साढ़े तीन लाख पुरुषों और 2 लाख महिलाओं ने पंजीयन कराया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week