हरियाण में आंदोलनकारी किसानों को खदेड़ने फोर्स की 4 कंपनियां बुलाईं

Thursday, June 15, 2017

चंडीगढ़। मध्य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस फायरिग में किसानों की मौत और स्थानीय मुद्दों को लेकर भारतीय किसान यूनियन शुक्रवार को हरियाणा में आठ स्थानों पर हाईवे जाम करेगी। दोपहर 12 से 3 बजे तक होने वाले प्रदर्शन से निपटने के लिए प्रदेश सरकार ने केंद्र से सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स की चार कंपनियां बुलाई हैं। गृह सचिव ने सभी जिलों के उपायुक्तों को अलर्ट रहने का निर्देश दिया है।

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि पूरे प्रदेश में आठ स्थानों पर हाईवे जाम किया जाएगा। भाजपा सरकार की वादाखिलाफी के कारण भाकियू सड़कों पर उतरने को मजबूर हो गई है। न तो किसानों का कर्ज माफ किया जा रहा और न ही स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू किया गया। इन दो मुद्दों को लेकर राष्ट्रीय किसान महासंगठन के बैनर तले 62 किसान संगठन देशभर में हाईवे जाम करेंगे। अगर सरकार नहीं जागी तो रेल ट्रैक पर भी जाम लगा सकते हैं।

उधर, भाकियू के तेवर को देख सोनीपत, जींद, कुरुक्षेत्र और अंबाला में सीआरपीएफ की एक-एक कंपनी के साथ भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। गृह सचिव रामनिवास ने गुरुवार को सभी जिला उपायुक्तों को निर्देश दिए कि स्थिति पर पूरी नजर रखें। शांति व्यवस्था कतई भंग नहीं होनी चाहिए।

मध्य प्रदेश में किसानों पर गोलीबारी करने वालों पर मुकदमा दर्ज कर वहां राष्ट्रपति शासन लगाया जाए नहीं बिगड़ने देंगे कानूनी व्यवस्था : डीजीपी पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने कहा कि लोकतंत्र में सबको अपनी बात कहने का हक है, लेकिन कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है। इसके लिए संबंधित स्थानों पर फोर्स तैनात कर दी गई है। मंदसौर की घटना के मद्देनजर पुलिस विशेष एहतियात बरतेगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं