बालाघाट विस्फोट: 25 मौतों की पुष्टि, 5km तक सुनाई दी आवाज

Thursday, June 8, 2017

आनंद ताम्रकार/बालाघाट। बुधवार अपरान्ह 3.30 एवं 4 बजे के माध्यम समनापुर मार्ग पर खैरी गांव की पटाखा फैक्टी में हुए ब्लास्ट के मामले में कई जानकारियां सामने आईं हैं। प्रशासन ने अब तक 25 मौतों की पुष्टि कर दी है। धमाका इतना तेज था कि 5 किलोमीटर दूर तक उसकी आवाज सुनाई दी। जिस समय ब्लास्ट हुआ मजदूर दोपहर का खाना खाकर विश्राम कर रहे थे। धमाके में सभी जिंदा जलकर राख हो गए। पटाखा फैक्टी संचालक को मात्र 50 किलो बारूद संग्रहित रखने का लाइसेंस दिया गया था परतु पटाखा फैक्टी में 1 कमरा भरकर बारूद संग्रहित किया गया था। प्रशासनिक अमले ने लाइसेंस देने के बाद इस पटाखा फैक्टी की नियमित जांच नहीं की। इसी लापरवाही के कारण फैक्टी संचालक के हौंसले बढ़ते गए। 

रात 9 बजे तक 24 लोगों के मरने की पुष्टि की गई थी तथा 5 मजदूरों को गंभीर अवस्था में नागपुर रेफर किया गया उसमें से एक ने रास्ते में ही दम तोड दिया। प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार वाहिद पिता समीर अहमद भटेरा निवासी को ग्राम पंचायत खैरी में फटाका फैक्टी संचालन के लिये लाईसेंस दिया गया था जिसमें उसे 50 किलोग्राम विस्फोट रखने की अनुमति थी लेकिन सूत्र बताते हैं कि वहां 1 कमरा भरकर बारूद जमा किया गया था। 

इस हादसे में जीवित बची जयमाला ठाकरे ने बताया की फैक्टी 2 कमरों में चलाई जा रही थी जिसके एक कमरे में बारूद रखा जाता था और दूसरे कमरे में मजदूर काम करते थे घटना के समय मजदूर खाना खाकर आराम कर रहे थे इसी बीच धमाका हुआ वह बदहवास हालत में बाहर भाग कर आई जिसके कारण वह बच गई इसके बाद जो कुछ उसने देखा उसको बता नही पाई। यह फैक्टी पिछले 4 वर्षो से चलाई जा रही थी सितम्बर 2016 में इसके लाईसेंस का नवीनीकरण किया गया फैक्टी विस्फोटक निर्माण के दौरान सुरक्षा के जो साधन रखे जाने चाहिये थे वहां कुछ नही थे।

फैक्टी में पहुंच मार्ग ना होने से बचाव कार्य के लिये पहुंची दमकले तथा अन्य वाहन को घटना स्थल तक पहुचने में अवरोध का सामना करना पड रहा है मार्ग के किनारे रेत के डम्प के कारण पहुचने में कठनाई उठानी पड रही थी। विस्फोटक की आवाज इतनी भयावह थी जिसे सुनकर लोग मौके के तरफ दौडे धमाके की आवाज 5 किलोमीटर के दायरे तक सुनाई दी।

इस हादसे की दण्डाधिकारी जांच के आदेश कलेक्टर श्री भरत यादव ने दिये है जिसकी जांच एडीएम शिवगोविंद प्रसाद मरकाम करेगें उन्हे 1 माह के अंदर जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के लिये कहा गया है। अभी तक किसी अधिकारी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है, ना ही पुलिस फरार पटाखा फैक्टी संचालक को गिरफ्तार कर सकी है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं