मंदसौर में किसानों पर फायरिंग, 5 की मौत, कई घायल

Tuesday, June 6, 2017

भोपाल। खबर आ रही है कि मंदसौर में पुलिस ने किसानों पर फायरिंग कर दी। इस फायरिंग में 5 किसानों की मौत हो गई जबकि कई किसान घायल हो गए। इससे पहले किसानों ने यहां रेल की पटरी को उखाड़ दिया है। पुलिस ने यहां लाठीचार्ज किया एवं आंसूगैस के गोले छोड़े। बताया जा रहा है कि किसान आंदोलन से प्रभावित जिलों की इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं। लोग यहां इंटरनेट इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं। लेकिन मध्यप्रदेश के गृह राज्य मंत्री ने कहा कि पुलिस द्वारा कोई फायरिंग नहीं की गई। उन्होंने कहा कि फायरिंग की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार द्वारा इंटरनेट बंद नहीं किया गया और ना ही कर्फ्यू लगाया गया।

मप्र के मंदसौर, रतलाम और उज्जैन में किसानों के तीव्र विरोध प्रदर्शन की खबरें आ रहीं हैं। इसके साथ ही राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ ने बुधवार को पूरे राज्य में हड़ताल करने का एलान किया है। किसान मजदूर संघ ने कर्जमाफी और फसल के वाजिब दाम की मांग की है। बीती रात मंदसौर जिले में किसानों ने रेलवे क्रांसिंग गेट को तोड़ने के साथ पटरी उखाड़ने की कोशिश की। इसके अलावा जिले में इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है।

मंदसौर के पुलिस अधीक्षक ओ. पी. त्रिपाठी ने बताया कि सोमवार की देर रात को दालोद पुलिस चौकी क्षेत्र में किसानों ने सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन किया और रेलवे क्रासिंग के गेट को तोड़ दिया। इसके अलावा उन्होंने पटरियों के बीच के स्लीपर पर लगे लोहे के एंगल को नुकसान पहुंचाया। हालांकि यातायात ज्यादा देर प्रभावित नहीं हुआ। किसानों ने कुछ स्थानों पर पथराव किया, जिसके बाद पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज कर उन्हें खदेड़ दिया। कुछ किसानों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत में लिया गया है।

वहीं, जिलाधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह ने कहा कि मंगलवार को स्थिति सामान्य है और सुरक्षा बल को तैनात किया गया है। जब उनसे जिले में इंटरनेट सेवाएं बंद किए जाने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया। इसके अलावा इंदौर की चौइथराम मंडी क्षेत्र में भी किसान विरोध प्रदर्शन के लिए जमा हुए। वहीं प्रशासन ने सुरक्षा के मद्देनजर भारी पुलिस बल की तैनाती की है। राज्य के अन्य हिस्सों से भी किसानों ने अपनी हड़ताल जारी रखने का ऐलान किया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं