रिलायंस कम्युनिकेशंस घाटे में, LOAN का ब्याज तक नहीं चुका पा रही

Monday, May 29, 2017

नई दिल्ली। अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस (RCOM) के हालात कुछ ज्यादा ही खराब है। कंपनी बैंक का लोन नहीं चुका पा रही है। रिलायंस कम्युनिकेशंस पर दस से ज्यादा स्थानीय बैंकों का लोन बाकी है। जिसे कंपनी चुका नहीं पा रही है। इकनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक रिलायंस कम्युनिकेशन करीब दस बैंकों का व्याज नहीं दे रही है। लिहाजा कई बैंकों ने अपनी एसेट बुक में स्पेशल मेंशन अकाउंट (SMA) के तौर पर रिलायंस के लोन को डाल दिया है। 

अब तक देश के 10 बैंकों ने लोन को एसएमए 1 और एसएमए 2 में डाल दिया है। SMA लोन वो होते हैं जिसमें कर्ज लेने वाले ने व्याज नहीं चुकाया होता। अगर तय तारीख से 30 दिनों तक इन लोन का भुगतान नहीं किया जाता तो उसे एसएमए 1 और अगर 60 दिनों बाद उसे एसएमए 2 श्रेणी में डाल दिया जाता है। अगर 90 दिनों के बाद भी बैंक को बकाया वापस नहीं किया जाता तो उसे नॉन परफॉर्मिंग असेट (NPA) में डाला जाता है।

CARE और ICRA द्वारा खराब रेटिंग मिलने के बाद आरकॉम के शेयर 20 प्रतिशत तक गिरे हैं। कंपनी को जनवरी-मार्च तिमाही में 966 करोड़ का नुकसान झेलना पड़ा था, जो उसका लगातार दूसरा तिमाही नुकसान था। वित्त वर्ष 2017 भी कंपनी के लिए नुकसान का पहला साल रहा। मार्च 31 कंपनी पर 42000 करोड़ का बकाया था, जिसे वह एयरसेल और ब्रूकफील्ड के साथ डील करने के बाद घटाना चाहती है। इन कंपनियों को आरकॉम 11 हजार करोड़ रुपये में अपनी टावर यूनिट रिलायंस इन्फ्राटेल का 51 प्रतिशत हिस्सा बेच रही है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week