मंत्रियों को CM की चेतावनी: अंदर की बात लीक की तो खैर नहीं

Wednesday, May 10, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान अब मीडिया में लीक हो रहीं 'अंदर की बात' से काफी नाराज हो गए हैं। चुनावी तैयारियां शुरू हो गईं हैं। अब शिवराज नहीं चाहते कि वो काला सच बाहर जाए जिससे नुक्सान होता हो। बता दें कि शिवराज सिंह की तीसरी पारी 'अंदर की बातों' से उठे बवाल को शांत करने में ही खर्च हो गई है। मध्यप्रदेश का सबसे लोकप्रिय नाम अब दिग्विजय सिंह का दूसरा अवतार कहा जाने लगा है। सीएम नहीं चाहते कि आने वाले डेढ़ सालों में कोई नया घोटाला या कैबिनेट की मीटिंग में होने वाले मतभेद मीडिया की सुर्खियां बनें। सीएम ने मंत्रियों को डराते हुए यह भी बताया है कि अब मैं पता लगा लूंगा कि कौन सी खबर किस मंत्री ने लीक की है। 

ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के अंतर्गत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रियों से चर्चा के दौरान साफ कर दिया कि प्रधानमंत्री आवास योजना समेत पीडीएस सिस्टम में गरीबों को जोड़े जाने वाले मामलों का तत्काल निराकरण कर लिया जाए। इस पर मंत्रियों का कहना था कि अभी वे नर्मदा सेवा यात्रा और प्रधानमंत्री की 15 मई को प्रस्तावित यात्रा की तैयारियों में लगे हुए हैं। इस पर सीएम ने कहा कि 15 मई के बाद जिलों में जाकर ग्रामोदय से भारत उदय अभियान में लग जाएं, ताकि जनता की जो शिकायतें मिली हैं। उनका निराकरण कर लिया जाए। 

मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को अनौपचारिक चर्चा में सख्त चेतावनी भी दे डाली। कहा गया कि कैबिनेट या बैठक की कोई खबर बाहर जाती है तो ऐसा करने वालों की खैर नहीं होगी। मैं पता कर लूंगा कि किस मंत्री ने कहा कौन सी खबर भेजी है। महत्वपूर्ण बैठकों में जो भी चर्चा होती है उसे गोपनीय रखा जाए। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week