CM शिवराज सिंह की प्रताड़ना से दुखी प्रमुख सचिव छुट्टी पर गए | ASHOK SHAH IAS

Wednesday, May 10, 2017

भोपाल। ज्योति की जाति का मामला अब हाईलेवल का मुद्दा बन गया है। अब यह केवल भाजपा की राष्ट्रीय सचिव और बैतूल से सांसद ज्योति धुर्वे तक सीमित नहीं रहा बल्कि सीएम शिवराज सिंह से संबद्ध हो गया है। अनुसूचित जनजाति विभाग के प्रमुख सचिव अशोक शाह ने ज्योति धुर्वे का जाति प्रमाण पत्र निरस्त कर दिया था। उसके बाद जिस तरह से सीएम ने बेवजह लताड़ लगाई और यह खबर मीडिया की सुर्खियां बनीं। दर्द होना स्वभाविक था। आईएएस अफसर हैं इसलिए मर्यादाओं में रहना अनिवार्य है अत: शाह ने अवकाश पर जाना उचित समझा। 

सांसद ज्योति धुर्वे का जाति प्रमाण पत्र अनुसूचित जनजाति विभाग ने यह कहते हुए निरस्त कर दिया था कि इसमें पिता की जगह पति का नाम लिखा है। इसके अलावा विभाग का कहना था कि इसमें कई अन्य खामियां बताकर इसे निरस्त कर दिया था। इस पर ज्योति धुर्वे ने आपत्ति जताते हुए इसे विभाग का एकतरफा निर्णय बताया था और इसकी शिकायत संगठन नेताओं समेत सीएम से की थी। 

सीएम शिवराज सिंह ने इस मामले में आक्रामक रुख अपनाया। उन्होंने अशोक शाह को तलब किया और जमकर लताड़ लगाई। उन्होंने यह भी दोहराया कि उनकी जानकारी के बिना यह कार्रवाई क्यों की गई। शिवराज सिंह काफी गुस्से में थे। बाद में उन्होंने अशोक शाह को निर्देशित किया कि वो अपना आदेश वापस लें। मजबूरन विभाग ने आनन-फानन में ज्याति धुर्वे की अपील का मामले में रिव्यू करते हुए पुराना आदेश निरस्त कर दिया और जाति प्रमाण पत्र से जुड़े अपने फैसले को स्थगित कर दिया। इसके बाद अशोक शाह छुट्टी पर चले गए। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week