SP गौरव तिवारी की 'सहेली' लड़कियों को पसंद आई

Friday, April 14, 2017

छिंदवाड़ा। शहर की छात्राओं को पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी आईपीएस की ‘सहेली हेल्प लाइन’ काफी पसंद आई। सैंकड़ों लड़कियों ने पहले ही दिन अपने मोबाइल में यह नंबर सेव कर लिया। अब वो निश्चित हैं, क्योंकि जब भी कोई बदमाश उन्हे गंदी निगाहों से देखेगा, वो बस एक बटन दबाएंगी और एसपी गौरव तिवारी की पुलिस उनकी मदद के लिए पहुंच जाएगी। इतना ही नहीं छात्राएं इस नंबर पर अपनी परेशानियां बताकर सलाह भी ले सकतीं हैं। 

बीते दिनों जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र में दो छात्राओं के आत्महत्या के मामले सामने आए थे। जिसका कारण मोबाइल फोन और फेसबुक आईडी के जरिए लड़कों द्वारा छात्राओं को परेशान करना और बदनाम करना था। इन दोनों मामलो की जांच में पुलिस ने पाया कि मनचले सोशल मीडिया जैसे वाट्सऐप, फेसबुक के जरिए ब्लैक मेल करते हैं और अश्लील बाते करते हैं, और उन्हें बदनाम करने की कोशिश करते हैं। 

जिससे लड़कियां समाज और परिजनों को सच का पता न चल जाए इस डर से डर जाती है। ऐसे में वो अपने माता-पिता को बताने के बजाय मौत को गले लगाने जैसा कदम उठा लेती है। इसके बाद एसपी गौरव तिवारी ने ‘सहेली हेल्प लाइन’ शुरू की। सहेली पर कोई भी छात्रा या महिला एसएमएस, व्हाट्सएप के माध्यम से शिकायत कर सकती है। शिकायतकर्ता का नाम पूर्णत: गोपनीय रखा जाएगा। 

शिकायत मिलने के बाद पुलिस तत्काल आरोपी के खिलाफ एक्शन लेगी। यह नंबर एसपी ने जिले के सभी स्कूल और कॉलेजों में दे दिया है, जिससे कोई भी घटना घटित होने से पहले वे उस आरोपी तक पहुंच सके। इस पर एसपी गौरव का कहना है की ऐसे मामलों में लड़कियों को थाने में आने की जरुरत नहीं, न ही बयान दर्ज कराने की जरुरत है। वे अपनी परेशानी हेल्पलाइन के माध्यम से कह सकती है। उनका एसएसएस या व्हाट्सएप पर आए संदेश को ही शिकायत माना जाएगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week