फतवा के विरोध में Sonu Nigam ने सिर मुंडावाया | BOLLYWOOD

Wednesday, April 19, 2017

मस्जिद के बाहर लाउडस्पीकर मामले में सिंगर सोनू निगम ने बुधवार को प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधित किया. प्रेस कान्फ्रेंस में सोनू ने कहा कि मैं बिना प्लान किए कह रहा हूं, कोई गलती है तो माफ कीजिएगा. मैं एक सोशल टॉपिक पर बात कर रहा हूं, इससे धर्म का कोई लेना देना नहीं है. मेरा रिलीजन का चलता है, लोग ऐसा करते हैं. मेरे लिये ये गुंडागर्दी करते हैं. सोनू ने कहा कि रास्ते में जो उत्सव होते हैं, वो लोग दादागीरी करते हैं, नाचते हैं. ऐसा करने से पुलिस की तकलीफ हो जाती है. सोनू निगम बोले कि लोग धर्म के नाम पर शराब पीते हैं, फिल्मी गाने बजाते हैं.इसके बाद सोनू ने सिर भी मुंडावाया. बता दें कि पश्चिम बंगाल माइनॉरिटी यूनाइटेड काउंसिल के वाइस प्रेसीडेंट सैयद शा कादिरी ने सोनू निगम के खि‍लाफ फतवा जारी किया था और कहा था कि जो कोई भी सोनू निगम को गंजा करेगा और पुराने जूते की माला पहनाएगा उसे 10 लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा. 

सोनू ने अपने बयान पर कहा कि आपको बुद्धिजीवी को समझ कर मेरी बात को अच्छी तरह पेश करना चाहिए. उन्होंने कहा कि अपने बच्चों को अच्छे माहौल दीजिए. अगर मैं कह रहा हूं तो आप इसे इस तरह क्यों ले रहे हैं. सोनू ने कहा कि ना मैं सेक्यूलर हूं और ना ही मैं राइट विंग हूं ना लेफ्ट विंग. उन्होंने कहा कि असल में मैं माइनरिटी हूं.
सोनू ने कहा कि यह वही गुंदागर्दी है जिसका जिक्र मैं कर रहा था. मैंने आलम को बुलाया है. ये कोई चैलेंज नहीं है, ये कोई निगेटिविटी नहीं है. उन्होंने कहा कि ये बाल जो देख रहे हैं मैं काट दूंगा. उन्होंने कहा कि ना मैं हिंदूवादी हूं, ना मुस्लिम, मैं सभी में विश्वास करता हूं. वह बोले कि मैं अजमेर में भी गया था, पुष्कर मंदिर भी गया था. अगर किसी में दम है तो ऐसी बातों पर बोल कर दिखाओ.

उन्होंने कहा कि क्या मेरे मुद्दा उठाने में कहीं मिस्टेक हो गई, क्या मेरी टाइमिंग गलत हो गई? उन्होंने कहा कि क्या ये सही वक्त नहीं था, योगी की सरकार आने से इसका क्या संबंध है? सोनू ने कहा कि मैंने ये मुद्दा पकड़ा है, बाकी बचे मुद्दों को आप पकड़े. सोनू बोले कि मुझे नहीं पता कि मस्जिद कहां हैं, इसमें कोई भी सच्चाई नहीं है कि मैं किसी को परेशान कर रहा था.

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week