अब SOFTWARE से तय होगा स्कूल बसों का जुर्माना

Saturday, April 15, 2017

भोपाल। स्कूल बसों के संचालन में सुरक्षा मानकों के उल्लंघन पर आरटीओ नहीं, बल्कि अब ऑनलाइन सॉफ्टवेयर से जुर्माना तय होगा। इसके लिए जागरूक भोपालः विद्यार्थी सुरक्षा पोर्टल में एक नया सॉफ्टवेयर फीचर जोड़ा गया है। इस फीचर को ई-डिस्ट्रिक्ट सोसाइटी ने तैयार किया है। अफसरों का तर्क है कि ऐसा इसलिए किया गया है, ताकि कोई भी प्रभावशाली स्कूल संचालक या बस ऑनर कार्रवाई से न बच सके और कार्रवाई में भेदभाव की गुंजाइश नहीं रहे।

यदि किसी स्कूल बस का ड्राइवर तय सीमा से ज्यादा स्पीड में बस दौड़ाता है, बस की फिटनेस निर्धारित छूट अवधि से ज्यादा वक्त तक दुरुस्त नहीं होती है तो उस पर जुर्माना लगाया जाएगा। स्कूल बस ट्रैकिंग सिस्टम के जरिए होने वाली ऑनलाइन मॉनिटरिंग का डेटा जागरूक भोपालः विद्यार्थी सुरक्षा पोर्टल पर ऑटोमैटिक सेव होगा। पोर्टल पर जोड़ा गया सॉफ्टवेयर डेटा को ऑनलाइन रीड करने के बाद जुर्माना तय कर इसकी सूचना ई-मेल के जरिए जिला प्रशासन के नोडल ऑफिसर, संबंधित स्कूल से नोडल सेफ्टी ऑफिसर, डीईओ और आरटीओ को भेज दी जाएगी। इसके अलावा वेब पोर्टल स्कूल बसों की अन्य गतिविधियों पर भी निगाह रखेगा।

16 अप्रैल को होना है लांच
जिला प्रशासन की पहल पर तैयार जागरूक भोपालः विद्यार्थी सुरक्षा वेबपोर्टल को 16 अप्रैल तक लांच किया जाएगा। इसके बाद राजधानी में सभी स्कूलों को इससे जोड़ते हुए स्कूल बसों की ट्रैकिंग सिस्टम को इस पोर्टल से लिंक किया जाएगा।

ये हैं विद्यार्थी सुरक्षा पोर्टल की खासियत
स्कूल बस - स्कूल बसों की प्रति किलोमीटर किराया सूची, रजिस्ट्रेशन नंबर, मॉडल नंबर, फिटनेस की जानकारी, ड्राइवर-क्लीनर के नाम, फोटो व ड्राइविंग लाइसेंस का रिकार्ड ऑनलाइन रहेगा।

यूनिफॉर्म - स्कूल की यूनिफॉर्म की डिजाइन, मोनो, और डेमो ऑनलाइन रहेगा।
किताबें - नर्सरी से 12वीं तक की के कोर्स से जुड़ी सभी किताबों की सूची मय पब्लिशर और कीमत के सार्वजनिक रहेगी।
बुक सेलर्स - पोर्टल पर शहर के सभी रजिस्टर्ड बुक सेलर के नाम, पते और ऑनलाइन सेलिंग पाइंट की लिंक उपलब्ध रहेगी।
पेरेंट एसोसिएशन - शहर के सभी पेरेंट एसोसिएशन इस पर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। साथ ही सुझाव दे सकेंगे।

ऑनलाइन जुर्माना तय होगा
विद्यार्थी सुरक्षा वेब पोर्टल पर ऑनलाइन स्कूल बसों का डेटा फीड होता रहेगा। इसी डेटा के आधार पर विद्यार्थी सुरक्षा पोर्टल का सॉफ्टवेयर ऑनलाइन की जुर्माना तय कर ईमेल के जरिए संबंधित स्कूल को नोटिस भी जारी कर देगा। पारदर्शिता और भेदभावरहित व्यवस्था बनाने के लिए यह निर्णय लिया गया है।
दिशा नागवंशी, एडीएम मुख्यालय

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं