सस्ते इलाज के लिए कानून बनाएंगे: नरेंद्र मोदी | MEDICAL

Monday, April 17, 2017

सूरत/गुजरात। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात दौरे के दूसरे दिन सोमवार को सूरत के कतारगाम में किरण मल्टी स्पेशिऐलिटी हॉस्पिटल का उद्घाटन किया। यह हॉस्पिटल पाटीदार समाज के एक ट्रस्ट से जुड़ा हुआ है जो 400 करोड़ की लागत से बना है। अस्पताल के उद्घाटन के बाद पीएम ने वहां मौजूद लोगों को संबोधित भी किया। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में अपनी सरकार द्वारा किए जा रहे कामों का खास जिक्र किया। पीएम ने सस्ते इलाज के लिए कानून बनाने की भी बात कही।

दुआ करूंगा कि इस अस्पताल में किसी को आना न पड़े
मोदी ने कहा कि अगर वह किसी हीरे के प्रतिष्ठान या ऐसी ही किसी दूसरी चीज का उद्घाटन करते तो यही दुआ देते कि प्रतिष्ठान खूब फूले-फले। उन्होंने कहा, 'यह अस्पताल परिश्रम से बना है। पैसों से ज्यादा मूल्य पसीने का है। मैं चाहूंगा कि इस अस्पताल में किसी को आने की जरूरत न पड़े और अगर आए भी तो इतना मजबूत होकर जाए कि दोबारा न आना पड़े।'

700 दवाइयों के दाम तय किए
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'परिवार का एक सदस्य भी बीमार हो जाए तो परिवार मुश्किल में पड़ जाता है। भारत सरकार ने हेल्थ पॉलिसी घोषित की है। अटल जी की सरकार के बाद 15 साल बाद यह सरकार हेल्थ पॉलिसी लाई।' उन्होंने कहा, 'सबको इलाज मिलना चाहिए। दवाइयां बनाने वाली कंपनियां मनमाना कीमत वसूलती थी। हमने नियम बनाया। 700 दवाइयों के दाम तय कर दिए। कई जीवनरक्षक दवाओं को सस्ता किया।' पीएम मोदी ने कहा कि जो दवाएं पहले 1200 में मिलती थीं अब 70 रुपये में मिलती हैं।

स्टेंट की कीमतों को कम करने का किया जिक्र
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज हर व्यक्ति हृदय रोग को लेकर चिंतित रहता है। स्टेंट की कीमतों को कम करने का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, 'दो महीने पहले हमने फैसला किया कि 40 हजार में जो स्टेंट बिकते थे वे 6 हजार में बिके। डेढ़ लाख के स्टेंट 20-22 हजार में बिके।' उन्होंने कहा कि डॉक्टर अब जेनरिक दवा लिखेंगे ताकि गरीबों को लाभ मिले। प्रधानमंत्री ने इंद्रधनुष टीकाकरण योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इसके तहत जिन महिलाओं का टीकाकरण नहीं हुआ उनका टीकाकरण किया जा रहा है। करीब 2 करोड़ ऐसी महिलाओं का टीकाकरण इस योजना के तहत हुआ है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं