दलित IAS उम्मीदवार पर हमले के पीछे आरक्षण विरोधी आग तो नहीं ?

Wednesday, April 12, 2017

नई दिल्ली। यूपी के बलरामपुर में एक दलित युवक को आईएएस के साक्षात्कार में जाने से पहले बेरहमी से पीटा गया। यह हमला सुनियोजित था। अज्ञात हमलावरों ने लाठी-डंडे से बुरी तरह पीटा। उसकी आंख व मुंह में रेत भर दी। उस पर चाकू से भी हमला किया। घटना शनिवार देर रात गैसड़ी कोतवाली के मनकापुर गांव में हुई। परिवारजनों का कहना है कि हमारी किसी से दुश्मनी नहीं है। ऐसे में प्रश्न यह भी सामने आता है कि कहीं यह आरक्षण विरोधी आग का परिणाम तो नहीं। देश में इस समय आरक्षण का उग्र विरोध हो रहा है। लोग, आरक्षण के खिलाफ लामबंद हो रहे हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

इस युवक का साक्षात्कार 10 अप्रैल को दिल्ली में होना है। यहां मेमोरियल अस्पताल में इलाज के बाद वह दिल्ली के लिए रवाना हो गया है। मनकापुर निवासी महेश कुमार भारती (22 वर्ष) पुत्र गंगा शरन बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में एमए (भूगोल) प्रथम वर्ष का छात्र है। उसने वर्ष 2016 की आईएएस मेन्स परीक्षा उत्तीर्ण की है। जिसका साक्षात्कार सोमवार को दिल्ली में होना है।

वह शुक्रवार को वाराणसी से मनकापुर गांव अपने घर आया था। वह शनिवार रात करीब नौ बजे गांव के बाहर शौच के लिए जा रहा था। महेश के मुताबिक तभी दो बाइक पर सवार होकर आए छह लोगों ने उसे डंडे से पीटना शुरू कर दिया। वे पहले से ही वहां घात लगा कर बैठे थे। एक हमलावर ने उस पर चाकू से हमला किया। हमलावरों ने उसके मुंह व आंख में रेत भर दी। उसका गला भी दबाया। तभी किसी बाइक सवार राहगीर के आने पर हमलावर भाग निकले। महेश के बाएं हाथ व सीने में कटे का निशान है। शरीर के अन्य हिस्सों में भी चोटें आई हैं लेकिन वह हमलावरों को पहचानता नहीं है।

मुंह में भर दी रेत
उसने घर आकर मामले की जानकारी दी। परिवारजन देर रात उसे लेकर कोतवाली गए। वहां से उसे इलाज के लिए बलरामपुर के मेमोरियल चिकित्सालय ले जाया गया। जहां रात भर उसका इलाज चलता रहा। सुबह उसकी हालत सुधरी है। मुंह में रेत भर दिए जाने के कारण वह ठीक से बोल नहीं पा रहा है। महेश के बड़े भाई बिन्देश्वरी भारती ने बताया कि उनके परिवार की किसी से रंजिश नहीं है। यह काम ऐसे लोगों का है जो मेरे भाई को आईएएस बनता नहीं देखना चाहते। ऐसे ही लोगों ने उसे साक्षात्कार में जाने से रोकने के लिए हमला किया है, लेकिन सवाल यह है कि जब किसी से दुश्मनी नहीं है तो लोग उसे रोकना क्यों चाहते हैं। क्या यह हमला उसके किसी निकटतम प्रतिद्वंदी द्वारा कराया गया है। या फिर यह आरक्षण विरोधी आग का परिणाम है। 

पीड़ित का दर्ज किया बयान
गैसड़ी के प्रभारी निरीक्षक सम्पूर्णानंद तिवारी ने घटनास्थल का जायजा लिया है। उन्होंने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। पीड़ित से मिल कर उसका बयान दर्ज कर लिया गया है। उन्होंन कहा कि तहरीर मिलने पर केस दर्ज होगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week