जो किया खुल्लम खुल्ला किया, अब सजा भोगने को तैयार: उमा भारती

Wednesday, April 19, 2017

नई दिल्ली। विवादित ढ़ांचा विध्वंस मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए निर्णय के बाद केंद्रीय गंगा संरक्षण मंत्री उमा भारती ने कहा है कि मुझे राममंदिर आंदोलन में हिस्सा लेने पर गर्व  है। उन्होंने कहा  'मैं आज रात ही अयोध्या जाऊंगी और रामलला के दर्शन करूंगी। राम जी को अपना गर्व और संतोष व्यक्त करूंगी कि इतना सम्मान दिया। मैं पद से चिपकने वाली नहीं हूं। हां मैं 6 दिसंबर को मौजूद थी, इसमें साजिश की कोई बात नहीं, जो हुआ वह खुल्लम खुल्ला हुआ था। अयोध्या आंदोलन में मेरी भागीदारी थी, मुझे कोई खेद नहीं, मैं इसके लिए कोई भी सजा भुगतने को तैयार हूं।'

कांग्रेस के इस्तीफा मांगने के सवाल पर उन्होंने कहा, 'देश में इमरजेंसी लगाने वाली कांग्रेस को मेरा इस्तीफ़ा मांगने का अधिकार नहीं है, मैं इस्तीफा नहीं दूंगी। राम मंदिर के लिए जो भी करना पड़ेगा वो करूंगी। राम मंदिर बनने का अवसर आ गया है, अयोध्या में राम मंदिर बन के रहेगा। मेरे वन, वचन,कर्म सब एक थे।'

आपको बता दें कि विवादित ढांचा विध्वंस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आज बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट के अदेशानुसार इस मामले में कुल 13 लोगों पर केस चलेगा, इनमें लालकृष्ण आडवाणी और उमा भारती समेत कई लोगों पर आपराधिक साजिश का मुकदमा चलेगा। सुप्रीम कोर्ट ने बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में सीबीआई की याचिका मंजूर कर ली। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week