कश्मीरी छात्रों के खिलाफ देशभर में आक्रोश, राजस्थान में मारपीट, मेरठ में पोस्टर

Friday, April 21, 2017

नई दिल्ली। कश्मीर में चल रही पत्थरबाजी और उसे मिल रहे पॉलिटिकल सपोर्ट के बाद अब देश भर की अलग अलग यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों के खिलाफ आक्रोश पनपने लगा है। राजस्थान की मेवाड़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले 6 कश्मीरी छात्रों के साथ मारपीट की गई है। वहीं उत्तरप्रदेश के मेरठ में पोस्टर लगाकर कश्मीरी छात्रों को यूपी छोड़ने की चेतावनी दी गई है। 

पुलिस के अनुसार बुधवार शाम करीब 6 बजे राजस्थान की मेवाड़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले कुछ कश्मीरी छात्र बाजार से सामान खरीदने निकले थे। इसी बीच अज्ञात लोगों का एक समूह आ गया और उन्हें पत्थरबाज कहते हुए उनपर फब्तियां कसने लगे। इतना ही नहीं हमला करने वालों ने हाल ही में सोशल मीडिया पर सीआरपीएफ जवान के पत्थरबाजों द्वारा पीटे जाने के वायरल हो रहे वीडियो को लेकर इन छात्रों पर अपना गुस्सा जाहिर किया और उन्हें भी इस घटना का जिम्मेदार बताया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

गौरतलब है कि मेवाड़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले छात्र इससे पहले भी कई बार विवादों में रह चुके हैं। साल 2016 में उपजे बीफ मामले में भी कश्मीरियों और स्थानीय लोगों के बीच बीफ खाने को लेकर विवाद हो गया था हालांकि बाद में जांच में पाया गया था कि छात्रों ने बीफ नहीं बल्कि मटन खाया था।

कश्मीरी छात्रों को यूपी छोड़ने की चेतावनी
दूसरी ओर यूपी के मेरठ में कश्मीरी स्टूडेंट्स के बहिष्कार करने का ऐलान किया गया है। पोस्टर लगाकर कश्मीरियों को मेरठ छोड़ने की चेतावनी दी गई है। गृह मंत्रालय ने मामले को गंभीरता से लेते हुए राज्यों को कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा है। गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को अडवाइजरी जारी कर कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने राज्यों को निर्देश दिया है कि कोई भी कश्मीरी बच्चों के साथ कहीं बदसलूकी करता है तो उसपर कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि कश्मीरी भी भारत के ही नागरिक हैं।

उत्तर प्रदेश नव निर्माण सेना नाम के एक संगठन की तरफ से मेरठ-देहारादून हाइवे पर बड़े-बड़े होर्डिंग लगाए गए हैं। इनमें यूपी में रह रहे कश्मीरियों को प्रदेश छोड़कर जाने की चेतावनी दी गई है। साथ ही 30 अप्रैल के बाद यूपी में कश्मीरियों के खिलाफ हल्ला बोलने को कहा गया है। संगठन की इस हरकत के बाद खुफिया विभाग और एजुकेशनल इंस्टिट्यूट अलर्ट हो गए हैं।

कश्मीरियों को किराए पर मकान ने देने की अपील
उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना की तरफ से कहा गया, ‘पढ़ाई करने आए युवाओं में वे लोग भी होंगे जिनके परिवार के लोग कश्मीर में सेना का विरोध करते हैं। जब यहां उनके परिवार के लोगों को परेशानी होगी तभी कश्मीर में पत्थरबाजी करने वालों को सबक मिलेगा।’ होर्डिंग लगाने के अलावा इस संगठन के अध्यक्ष अमित जानी ने ट्वीट किया, ‘कश्मीरी 30 अप्रैल तक यूपी खाली कर दें, वरना हड्डी तोड़कर वापस भेजेंगे।’ इसके साथ ही उन्होंने मेरठ के लोगों से अपील की कि कश्मीरियों को किराए पर मकान न दें और दुकानवाले उन्हें सामान न दें। जानी ने एनबीटी से कहा, 'हम भारतीय सेना के प्रति लोगों में हमदर्दी लाना चाहते हैं और पत्थरबाजों के खिलाफ आवाज बुलंद करना चाहते हैं।'

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं