9000 करोड़ का जनधन लेकर भागा विजय माल्या गिरफ्तार | BANK DEFAULTER

Tuesday, April 18, 2017

नई दिल्ली। अय्याशी भरी लक्झरी लाइफ के लिए मशहूर लिकर किंग एवं नेशनल बैंकों से 9000 करोड़ का लोन लेकर फरार हुआ विजय माल्या गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे लंदन में स्कॉटलैंड यार्ड द्वारा गिरफ्तार किया गया। बाद में उन्हें वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश किया गया, जहां गिरफ्तारी के तीन घंटे बाद ही उन्हें जमानत मिल गई। माल्या को धोखाधड़ी के आरोपों में उनके प्रत्यर्पण के भारत सरकार के आग्रह पर गिरफ्तार किया गया। शराब कारोबारी माल्या लोन डिफॉल्ट के मामले में भारत में वांछित हैं। उन्हें तब गिरफ्तार कर लिया गया, जब वह सुबह मध्य लंदन पुलिस थाने में पेश हुए।

स्कॉटलैंड यार्ड ने कहा कि मेट्रोपॉलिटन पुलिस की प्रत्यर्पण इकाई ने प्रत्यर्पण वारंट पर विजय माल्या को धोखाधड़ी के आरोपों में भारतीय अधिकारियों की ओर से गिरफ्तार किया। पिछले ही महीने ब्रिटिश सरकार ने विजय माल्या के प्रत्यर्पण को लेकर भारत के आग्रह पर अपनी प्रक्रिया शुरू की। ब्रिटिश सरकार ने भारत के आग्रह को कार्रवाई के लिए डिस्ट्रिक्ट जज को भेजा।

ब्रिटेन से प्रत्यर्पण के मामले में जज को फ़ैसला लेना होता है कि अरेस्ट वारंट भेजा जाए या नहीं। वारंट जारी होने पर व्यक्ति को गिरफ़्तार कर कोर्ट के सामने प्राथमिक सुनवाई के लिए लाया जाता है। इसके बाद कोर्ट में प्रत्यर्पण पर सुनवाई होती है। कोर्ट का फ़ैसला आने के बाद प्रत्यर्पण पर अंतिम फ़ैसला विदेश मंत्री को करना होता है। गिरफ़्तार किए गए आरोपी को सुप्रीम कोर्ट तक अपील करने की छूट होती है।

पिछले साल विजय माल्या उस समय देश छोड़कर जाने में कामयाब हो गए थे, जब विभिन्न बैंक उनसे ऋण की वसूली की कोशिशों में जुटे हुए थे। बाद में भारत सरकार ने विजय माल्या का पासपोर्ट भी रद्द कर दिया था, और इसी आधार पर यूके की सरकार से उन्हें भारत डिपोर्ट कर देने का आग्रह किया था।

इसके बाद भारतीय विदेश मंत्रालय को जानकारी दी गई कि भारत का डिपोर्टेशन अनुरोध यूके के कानूनों के तहत काम नहीं करेगा, क्योंकि यूके में ऐसे लोगों को भी रहने की अनुमति है, जिनके पासपोर्ट वैध नहीं रहे हैं। अब बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइन्स शुरू करने वाले विजय माल्या पर सीबीआई ने 1,000 पृष्ठ की चार्जशीट में धोखाधड़ी और साजिश रचने के आरोप लगाए थे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week