मप्र में 6 लाख परिवारों का केरोसिन तेल बंद, 17 लाख की तैयारी

Tuesday, April 18, 2017

राजीव सोनी/भोपाल। राज्य सरकार ने 6 लाख गरीब परिवारों को राशन दुकानों से मिलने वाला केरोसिन तेल अचानक बंद कर दिया। इनके अलावा 17 लाख परिवारों की भी घासलेट सुविधा जल्दी छिन जाएगी। प्रदेश में उज्जवला योजना के तहत जिन परिवारों को गैस कनेक्शन बांटे गए हैं उन्हें अब घासलेट नहीं दिया जाएगा। शुरूआत डबल सिलेंडर वाले 6 लाख परिवारों से की गई है।

प्रदेश में पीडीएस दुकानों से सस्ते अनाज और घासलेट का लाभ ले रहे परिवारों की कटौती शुरू हो गई है। पात्र परिवारों की पहचान का सिलसिला भी चल रहा है,इस बीच उज्जवला योजना के तहत सरकार ने जिन 23 लाख परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन बांटे हैं उन्हें अब घासलेट नहीं देने का निर्णय किया गया है।

इसकी शुरूआत ऐसे 6 लाख शहरी परिवारों से की गई है जिनके पास डबल सिलेंडर गैस कनेक्शन हैं। अगली सूची में 17 लाख अन्य परिवारों को रखा गया है। केन्द्र सरकार ने राज्यों को स्पष्ट संकेत दिए हैं कि उज्जवला योजना में जिन्हें रसोई गैस दी गई है उन्हें अब रियायती घासलेट देने की जरूरत नहीं। प्रमुख सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति के.सी. गुप्ता ने इस फैसले की पुष्टि की है।

अंत्योदय को 5 लीटर
पीडीएस दुकानों से राशन कार्ड पर सामान्य उपभोक्ताओं को 2 लीटर एवं अंत्योदय (अति गरीब) परिवारों को हर महीने 5 लीटर घासलेट दिया जाता है। रियायती दर 20.78 रुपए लीटर है। वहीं खुले बाजार में यह 30 रुपए है। प्रदेश में सरकार 1.18 करोड़ परिवारों (5.40 करोड़ नागरिकों) को पीडीएस में सस्ता अनाज और घासलेट बांटती है। इन्हें प्राथमिकता परिवार भी माना गया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week