28 हजार सहायक शिक्षकों का प्रमोशन अटका, संविदा शिक्षक, अध्यापक बन गए

Wednesday, April 12, 2017

भोपाल। प्रदेश के स्कूलों में काम कर रहे 28 हजार सहायक शिक्षकों के जूनियर उनसे सीनियर हो गए हैं। ये सभी सहायक शिक्षक 1998 से पहले भर्ती हुए थे, जिन्हें पदोन्न्ति न मिलने से वे अब तक जहां के तहां हैं, जबकि इनके बाद में बने संविदा शिक्षक पदोन्न्त होकर अध्यापक बन गए हैं। हालांकि अब जल्द ही स्कूल शिक्षा विभाग इन 28 हजार सहायक शिक्षकों को उच्च श्रेणी शिक्षक के पद पर अपग्रेड करने जा रहा है।

स्कूल शिक्षा विभाग ने वित्त विभाग से सहायक शिक्षकों को उच्च श्रेणी के शिक्षक पर अपग्रेड के लिए पद मांगे हैं। विभाग के अधिकारियों के मुताबिक प्रदेश में 45 हजार से ज्यादा सहायक शिक्षक काम कर रहे हैं। इनमें से 28 हजार शिक्षकों को उच्च श्रेणी के शिक्षक पद मिल जाएगा। इन सभी शिक्षकों को नौकरी में 20 साल से ज्यादा हो गए हैं। अधिकारियों के मुताबिक इस प्रक्रिया में सरकार पर वित्तीय भार नहीं आएगा।

सहायक शिक्षकों को पहले ही वरिष्ठ वेतनमान मिल चुका है। सूत्रों का कहना है कि उच्च श्रेणी के शिक्षक पद के लिए सिर्फ सात हजार पद ही थे, अब वित्त विभाग से नए पद मांगे गए हैं।

बाद में नियुक्ति के बावजूद अध्यापक प्रधानाचार्य बनने की स्थिति में
वित्त विभाग को भेजे प्रस्ताव में स्कूल शिक्षा विभाग ने यह भी बताया है कि 1998 के बाद नियुक्त हुए संविदा शिक्षक, सहायक अध्यापक से अध्यापक बन गए, लेकिन सहायक शिक्षकों की पदोन्न्ति नहीं हुई। सूत्रों के मुताबिक कई स्कूलों में सहायक शिक्षक से जूनियर होने के बावजूद ऐसे लोग प्रधानाचार्य बनने की स्थिति में आ गए। ज्यादातर सहायक शिक्षक आठ से 10 साल में तो रिटायर होने वाले हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं