सरकारी मंडी से रूठे किसान: 1101 किसानों में 01 किसान ने बेची फसल | FARMER

Wednesday, April 19, 2017

राजेश शुक्ला/अनूपपुर। जिले के किसान सरकारी मंडियों से रूठ गए हैं। इस वर्ष 2017-18 में समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए 8 खरीदी केन्द्र बनाए गए है। जिसमें जिले भर के 1101 किसान पंजीकृत किए गए हैं। जिसके लिए इस वर्ष जिले भर से 19000 क्विंटल गेहूं के खरीदी का लक्ष्य रखा गया है। 27 मार्च से प्रारंभ हो चुकी खरीदी में 24 दिन बीत जाने के बाद भी अब तक 1 खरीदी केन्द्र कोतमा में 1 किसान द्वारा 8 क्विंटल गेहूं ही बेचा गया है। वहीं अब भी जिले के 7 खरीदी केन्द्र अब भी सूने पड़े हुए है।

बाजार की ओर रूख कर रहे किसान
समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी करने के लिए जहां प्रदेश शासन ने 1625 रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदी केन्द्रो में बेचा जाना है लेकिन बाजार कीमत अधिक होने के कारण अब जिले के किसान बाजार की ओर अपना रूख कर बेच रहे है। जिसके कारण जिले की खरीदी केन्द्र अब पूरी तरह से सूनी है। 

8 खरीदी केन्द्रो में 1101 कृषक
जिले में बनाए गए 8 खरीदी केन्द्रो में 1101 पंजीकृत कृषक है, जिनमें अनूपपुर खरीदी केन्द्र में 164, कोतमा में 63, जैतहरी में 66, बेनीबारी में 76, भेजरी में 100, दुलहरा में 214, फुनगा में 121 तथा राजेन्द्रग्राम खरीदी केन्द्र में 206 कृषक अपनी गेहूं की फसल समर्थन मूल्य पर इन खरीदी केन्द्रो में लाकर बेचेगे। वहीं 24 दिन बीत जाने के बाद जिले में भर से सिर्फ एक किसान ने ८ क्विंटल गेहूं लाकर बेचा गया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week