SBI CHIEF अरुंधति भट्टाचार्य के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस

Friday, March 17, 2017

मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष ने भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की अध्यक्ष अरुंधति भट्टाचार्य के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस पेश किया। यह नोटिस किसान कर्ज माफी के खिलाफ अरुंधति के बयान को लेकर पेश किया गया है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राधाकृष्ण विखे पाटिल ने महाराष्ट्र विधानमंडल की धारा 273 के तहत सभापति हरिभाऊ बागाडे को संबोधित करते हुए नोटिस भेजा है। नोटिस में विखे पाटिल ने कहा है कि हाल के दिनों में देशभर में किसानों द्वारा आत्महत्या की घटनाएं बढ़ी हैं और पिछले दो साल में अकेले महाराष्ट्र में 8,000 से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या की है।

विखे पाटिल ने कहा, "महाराष्ट्र के लोग पूरी तरह से कृषि ऋण माफी की मांग कर रहे हैं और पिछले कुछ दिनों में यह मुद्दा विधानसभा में बार-बार उठाया गया है। उत्तर प्रदेश में भाजपा ने आश्वासन दिया है कि मंत्रिमंडल की पहली बैठक में ही किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा।"

उन्होंने कहा कि ऐसे समय में अरुंधति भट्टाचार्य का बयान किसानों के जख्मों पर नमक रगड़ने जैसा है। अरुंधति ने कहा था कि किसानों का ऋण माफ किए जाने से साख अनुशासन बिगड़ेगा और भविष्य में भी लोग कर्ज माफी की उम्मीद लगाए रहेंगे। यानी भविष्य में भी वे कर्ज नहीं चुकाएंगे।

विखे पाटिल ने कहा कि एसबीआई की प्रमुख एक 'सरकारी कर्मचारी' हैं, ना कि राज्य या देश की 'नीति निर्माता' हैं। उन्होंने कहा कि अरुंधति भट्टाचार्य का बयान उनके अधिकार क्षेत्र से बाहर है। किसानों का ऋण माफ करने का फैसला विधायिका लेगी। अरुंधति ने किसान कर्ज माफी के खिलाफ बयान देकर महाराष्ट्र विधानसभा का अपमान किया है, इसलिए उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से आग्रह किया कि वे आगे का कदम उठाएं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं