जिस MIRROR से मुगल हमलावर ने रानीपद्मिनी को देखा था, उसे तोड़ दिया गया

Monday, March 6, 2017

चित्तौड़गढ़। जिस शीशे से मुगल हमलावर अलाउद्दीन खिलजी, रानीपद्मिनी की झलक देखकर उनका दीवाना हुआ और चित्तोड़गढ़ पर हमला किया। उस एतिहासिक दर्पण को तोड़ दिया गया है। यह तोड़फोड़ श्री राजपूत करणी सेना ने की है। उसने इसकी जिम्मेदारी भी ली है। बता दें कि इन दिनों रानी पद्मिनी के प्रति मुगल खिलजी की दीवानगी को लेकर एक फिल्म बन रही है। राजपूत इसका विरोध कर रहे हैं। 

घटना की जिम्मेदारी श्री राजपूत करणी सेना ने लेते हुए कहा कि उन्होंने 15 दिन पहले ही अल्टीमेटम दे दिया था कि इन कांचों को नहीं हटाया गया तो फोड़ दिया जाएगा। इस अल्टीमेटम पर ना तो भारतीय पुरातत्व विभाग ने ध्यान दिया, ना ही दुर्ग में स्थित पुलिस चौकी के कर्मचारियों ने। इसी का फायदा उठाते हुए रविवार शाम पौने पांच बजे चार-पांच युवक दुर्ग में बने पद्मिनी महल में घुसे और कांच वाले गोलाकार कक्ष में पहुंचकर पर्यटकों की मौजूदगी में तीन दिशाओं में लगे तीनों कांचों को पत्थर मार कर फोड़ दिया। कांच चूर-चूर होकर नीचे गिर गए। इसके बाद युवक तेजी से बाहर निकल गए। इतना सब होने के बावजूद दुर्ग के किसी कर्मचारी को खबर तक नहीं लगी। मामले में देर रात तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई थी। 

बाद में एक महिला पर्यटक ने सूचना गेट पर तैनात कर्मचारी को दी। इसके बाद पुरातत्व विभाग पुलिस को सूचना दी गई।  महल के गोलाकार कक्ष में तीन कांच लगे थे। युवकों ने तीनों को फोड़ दिया। करणी सेना ने कहा- पर्यटकों को जानकारी दी जाती थी कि इन कांचों में खिलजी काे पद्मिनी की सूरत दिखाई गई थी। सेना ने कहा उस समय शीशे ही नहीं थे। पर्यटकों को गुमराह करने के लिए बाद में इन्हें लगाया गया। 

करणी सेना ने कहा: हमने कांच फोड़े, फिल्म भी नहीं बनने देंगे 
श्रीराजपूतकरणी सेना के कार्यकर्ता सहदेवसिंह नारेला ने कहा कि उनके नेतृत्व में ही समाज के युवाओं ने कांच फोड़े हैं। सेना के जिलाध्यक्ष गोविंद सिंह खंगारोत ने कहा कि करीब 15 दिन पहले ज्ञापन देकर ये कांच हटाने की मांग की थी। विभाग ने ध्यान नहीं दिया तो संगठन ने कांच खुद हटा दिए। उन्होंने कहा पद्मिनी पर कोई फिल्म भी नहीं बनने दी जाएगी। 

पुलिस और पुरातत्व विभाग ने कहा: जाने कौन फोड़ गया शीशे 
महलके गेट कर्मचारी मुन्नालाल ने कहा-दो महिला पर्यटकों ने बाहर आकर बताया कि कांच फोड़ दिए गए हैं। दुर्ग के कार्यवाहक संरक्षण सहायक प्रेमचंद शर्मा ने कहा कि कोतवाली थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। किले में स्थित पुलिस चौकी के प्रभारी भूरसिंह ने कहा कि अज्ञात लोगों ने ऐसा किया है। कोई भी हो कार्रवाई की जाएगी। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं