मोदी के नाम चिट्ठी लिखकर सुसाइड कर लिया, पुलिस बोली: पागल था

Thursday, March 2, 2017

ग्वालियर। सुसाइड से पहले लिखा आत्महत्या करना महापाप है और मेरे मरने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मेरे घर आकर मन की बात करें तो शांति मिलेगी। इसके बाद पेरेंट्स से माफी मांगी और सीधे रेलवे ट्रैक पर जाकर पटरी पर सिर रख दिया। ट्रेन आई और युवक के शरीर को दो हिस्सों में बांटती निकल गई। 

यह घटना दतिया की है। एक युवक स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक पर काफी देरी से टहल रहा था। उसे शायद किसी ट्रेन का इंतजार था। जैसे ही एक ट्रेन आई, तुरंत दौड़कर गया और पटरी पर सिर रख दिया। लोग कुछ समझ पाते, इसके पहले ट्रेन उसके ऊपर से निकल गई। ट्रेन के निकलते ही युवक का सिर और धड़ अलग हो गया। पुलिस और लोग तुरंत मौके पर पहुंचे। पुलिस ने उसके सामान की तलाशी ली।

सुसाइड नोट में लिखा मेरे घर आकर पीएम बात करें
युवक के सामान से एटीएम कार्ड सहित कई पेज में लिखा सुसाइड नोट मिला। इसमें सुसाइड की कोई खास वजह तो नहीं लिखी थी, लेकिन वह चाहता था कि पीएम मोदी मौत के बाद घर आकर मन की बात करें। इसके अलावा अपने पेरेंट्स से माफी मांगी और यह भी बताया कि सुसाइड करना महापाप है, लेकिन उसे यह कठिन फैसला लेना पड़ रहा है।

सिविल लाइंस थाना प्रभारी नरेन्द्र शर्मा ने बताया कि ऐसा लगता है कि युवक की मानसिक हालत ठीक नहीं थी। उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पेरेंट्स को सूचना दे दी है। दुष्यंत के बैग से मिले सुसाइड नोट में उसने गांव वालों से माता-पिता का ख्याल रखने की बात कही है। इसके अलावा गांव के लिए पक्की सड़कें, नालियों के निर्माण, रामराजा सरकार मंदिर, गांव के लिए 12 घंटे बिजली तथा सांसद द्वारा गांव गोद लिए जाने सहित देश के नक्शे पर गांव की पहचान बनाने की मांग की है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week