कर्मचारी: सातवा वेतनमान लागू, बजट में हुआ ऐलान, जुलाई से मिलेगा

Wednesday, March 1, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष अरूण द्विवेदी, संरक्षक उदय सिंह भदोरिया, महामंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा, सुधीर नेमा, रविकांत बरोलिया,सुमित द्विवेदी, एस.के. सक्सेना, किरण तिवारी, शशी कराडे आदि ने प्रदेश के अधिकारियों कर्मचारियों को सातवां वेतनमान जनवरी 16 से लागू कर जुलाई 17 से नगद दिये जाने के बजट ऐलान का स्वागत करते हुए प्रदेश के मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं वित्त मंत्री जयंत मलैया का अभार प्रकट किया है। 

तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष अरूण द्विवेदी एवं महामंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा ने बताया कि वित्त मंत्री ने बजट में ऐलान करते हुए प्रदेश के अधिकारी कर्मचारियों को सातवा वेतनमान एक जनवरी 16 से लागू किया। प्रदेश के अधिकारी कर्मचारियों में इस ऐलान को लेकर काफी उत्सुकता थी। इस ऐलान से प्रदेश के 4 लाख नियमित अधिकारी कर्मचारियों सहित कुल 8 लाख अधिकारी कर्मचारियों को बडे हुए वेतन का लाभ मिलेंगा। 

वेतनमान एक जनवरी 16 से ऐरियर्स सहित भुगतान होगा। एक जुलाई 17 से अधिकारियों एवं कर्मचारियों को बडा हुआ वेतन मिलेंगा। नकद भुगतान जुलाई 16 का वेतन जो अगस्त 17 में देय होगा से मिलेंगा। जनवरी 16 से जून 17 तक कुल 18 माह का वेतनमान का ऐरियर्स किष्तों में दिया जायेगा। कितनी किष्तों में कब कब किया जायेगा इसकी अभी कोई नीति नही बनाई गई है हलांकि कर्मचारी नेताओं ने ऐरियर्स की राशि को सामान्य भविष्य निधि खाते में जमा करने का प्रस्ताव दिया था जिस पर सरकार ने अभी कोई निर्णय नही लिया है। 

तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष अरूण द्विवेदी एवं महामंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा ने बताया कि संघ लगातार मुख्य मंत्री एवं वित्त मंत्री को ज्ञापन सौंप कर सातवा वेतनमान शीघ्र दिये जाने की मांग कर रहा था। तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के प्रदेष अध्यक्ष अरूण द्विवेदी एवं महामंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा ने मांग की है कि सरकार को प्रदेष के सरकारी पेंषनर के बारे में भी शीघ्र निर्णय लेना चाहिये क्योंकि अभी बजट में सरकारी पेंषनर्स के लिये कोई व्यवस्था नही की गई है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं