शहीद की बेटी को सपोर्ट करने वाले पाकिस्तानी: BJP के मंत्री ने कहा

Wednesday, March 1, 2017

चंडीगढ़। गुरमेहर कौर ने भले ही कैंपेन से खुद को अलग कर लिया हो और अपने को अकेला छोड़ने की बात कही हो लेकिन उनके बयान पर माहौल अब भी गर्म है। इस बयानबाजी में अब हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज भी कूद गए हैं। उन्होंने पूरे मामले में बयान देते हुए कहा है कि जो लोग गुरमेहर का समर्थन कर रहे हैं वह पाकिस्तानी हैं।

विज ने कहा कि गुरमेहर कौर अपने पिता की शहादत पर राजनीति करने की कोशिश कर रही हैं। यह निंदनीय है। पाकिस्तान प्रत्य़क्ष व अप्रत्यक्ष रूप से भारत से लड़ाई लड़ता रहा है। एेसे में एक शहीद की बेटी पाकिस्तान को क्लीन चिट दे रही है, जो उचित नहीं है। विज यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि जो लोग गुरमेहर कौर का समर्थन कर रहे हैं वह पाकिस्तानी हैं। एेसे लोगों को देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है।

उधर, जींद में सांसद दुष्यंत चौटाला ने दिल्ली यूनिवर्सिटी में वामपंथी और एबीवीपी के आपस के संघर्ष की शिकार हुई गुरमेहर कौर के ट्वीट का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि कोई पाकिस्तानी नहीं चाहता कि हर हिन्दुस्तानी व्यक्ति मरे और न ही कोई हिन्दुस्तानी चाहता की हर पाकिस्तानी मरे।

बता दें, दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) की छात्रा गुरमेहर कौर ने रामजस कॉलेज के घटनाक्रम के बाद बढ़ते विवाद को देखते हुए अपनी मुहिम समाप्त कर दी है। मंगलवार सुबह सात बजे गुरमेहर ने ट्वीट कर कहा है कि अब वह अपनी मुहिम पर विराम लगा रही है।

गुरमेहर ने ट्विटर पर लिखा- 'सबको मुबारकबाद। अब मैं अपनी मुहिम को समाप्त कर रही हूं। मेरी अपील है कि अब मुझे अकेला छोड़ दिया जाए। मैंने जो कहना था, कह दिया है। अब यह पक्का है कि हिंसा करने वाले और धमकाने वाले ऐसा करने से पहले कम से कम दो बार जरूर सोचेंगे। मेरा मकसद बस इतना ही है।' उनके इस मैसेज पर कुछ लोगों ने खिल्ली उड़ाते हुए प्रतिक्रिया दी। इस पर गुरमेहर ने फिर ट्वीट कर जवाब दिया- 'मेरे हौसले और बहादुरी पर सवाल करने वालों को मैं बता देना चाहती हूं कि मैंने अब तक जितना हो सकता था, हौसला दिखाया है। एक बीस साल की लड़की जितना जबरदस्त हौसला दिखा सकती है, मैंने दिखाया है।'

विद्यार्थियों के मार्च को कामयाब बनाने की अपील
गुरमेहर ने कहा,'यह मुहिम मेरे बारे में नहीं है, विद्यार्थियों के लिए चलाई गई है। मेरी गुजारिश है कि भारी संख्या में विद्यार्थियों के मार्च में शामिल होकर इसे कामयाब बनाएं।' एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा,'अब मुझे प्लीज अकेला छोड़ दो। अब मेरे मोबाइल या सोशल साइट्स पर मैसेज न करें। अब मैं घटनाक्रम के बाद खुद पर पड़े प्रभाव से दूर रहकर सुकून के पल बिताना चाहती हूं।'

पोस्टर वाली डीपी बदली
गुरमेहर ने सोशल मीडिया से मुहिम के पोस्टर वाली डीपी (डिसप्ले पिक्चर) हटाकर कैफेटेरिया में कोल्ड कॉफी पीते हुए एक फोटो पोस्ट की है। गुरमेहर के विचारों का समर्थन करने वालों की संख्या भी बढ़ रही है। मीडिया में उनकी सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है। जाने-माने लेखक चेतन भगत और वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी गुरमेहर के विचारों का समर्थन किया है। सोशल मीडिया पर एक अकाउंट से गुरमेहर के समर्थन में पोस्ट की गई- कीप इट अप, हम आपके साथ हैं।

दादा ने कहा, दुख की बात है कि नेता भी बयानबाजी कर रहे हैं
गुरमेहर कौर के दादा कमलजीत सिंह ने कहा कि अब इस मामले को बंद कर दो। बिना कारण बढ़ावा दिया जा रहा है। कॉलेजों, यूनिवर्सिटीज में होने वाले आंदोलन भी जायज नहीं हैं। वहां बच्चे पढऩे के लिए जाते हैं, आंदोलनों के लिए नहीं। दुख की बात है कि बड़ी पार्टियों के नेता भी इस पर बयानबाजी कर रहे हैं।

गुरमेहर के समर्थन में आई सिंह सभा
शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर को दी गई धमकी पर शहर की सिंह सभा ने गुरमेहर का समर्थन किया है। सिंह सभा के सदस्यों ने कहा कि इस तरह लड़कियों, मां बेटी को धमकी देने वाले लोगों को पकड़ कर जेल में डाल देना चाहिए, जिससे उन्हें उनकी घटिया सोच के लिए सजा मिल सके।

गुरमेहर अकेली नहीं, पंजाब व सिख कौम उसके साथ: बीर दविंदर 
पंजाब विस के पूर्व डिप्टी स्पीकर बीर ददिवंदर सिंह ने कहा है कि सोशल मीडिया पर चर्चा में आई कारगिल के शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर को आरएसएस की शह पर एबीवीपी व भाजपा के गुंडों की ओर से धमकियां दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि सिख व पंजाबी मरे नहीं हैं। हममें अपनी बेटी की इज्जत बचाने की गैरत अभी जिंदा है। गुरमेहर अकेली नहीं है, उससे पीछे पूरा पंजाब व सिख कौम खड़ी है।

उन्होंने कहा कि गुरमेहर कौर का कसूर सिर्फ इतना है कि उसने एबीवीपी की अंधी गुंडागर्दी का विरोध किया है। इससे स्पष्ट है कि दिल्ली में असहनशीलता व फिरकापरस्त ताकतों का तांडव सिर चढ़कर बोलने लगा है। मंगलवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति में बीर दविंदर ने कहा है कि कुछ लोग राष्ट्रवाद पर देशभक्ति का झूठा खेल खेल रहे हैं। यही लोग भारत व भारतीयता के टुकड़े करने के लिए जिम्मेवार होंगे।

दुष्कर्म की धमकी मोदी सरकार पर कलंक: भगवंत मान
आप सांसद भगवंत मान ने कहा है कि गुरमेहर को सोशल मीडिया पर मिलीं दुष्कर्म की धमकी मोदी सरकार पर कलंक है। केंद्र सरकार ऐसी धमकी देने वालों के खिलाफ केस दर्ज करे, नहीं तो सीएम अरविंद केजरीवाल दिल्ली में ऐसा कानून बनाएंगे कि ऐसी धमकी देने वाले रात को सपने में भी केजरीवाल-केजरीवाल करेंगे। वह बरनाला के एसडी कॉलेज में इवीएम मशीनों की सुरक्षा में बैठे आप वर्करों का आभार जाते पहुंचे थे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week