Backbone Buildcon: ना प्लाट दिया ना पैसे लौटा रहा है

Sunday, March 12, 2017

BHOPAL | सेमरा में प्रस्तावित रिंग पार्क कॉलोनी में प्लाट का सब्जबाग दिखाकर Backbone Buildcon Pvt. Ltd ने सैन्यकर्मी के साथ धोखाधड़ी कर दो लाख रुपए हड़प लिए। करोंद स्थित पूजा कॉलोनी निवासी सैन्यकर्मी राजेश हंसारी के 18 साल के बेटे नमन हंसारी की दोनों किडनी खराब हो गई हैं। नमन का इंदौर में इलाज चल रहा है, इलाज के लिए पैसे की सख्त जरूरत है, लेकिन बिल्डर पैसे लौटाने के लिए चक्कर कटवा रहा है। बिल्डर नासिर हुसैन से परेशान राजेश हंसारी ने कलेक्टर से शिकायत की है।

राजेश हंसारी ने वर्ष 2013 में रिंग पार्क कॉलोनी में पार्क खरीदने के लिए 2 लाख रुपए एडवांस देकर बैकबोन बिल्डर से करार किया था। शेष 5 लाख रुपए का भुगतान प्लाट का कब्जा देते वक्त तय हुआ। बैकबोन के कर्ताधर्ता नासिर हुसैन ने 31 मार्च 2013 को अनुबंध किया, लेकिन अनुबंध पत्र में अपने नाम के बजाए अकील हुसैन और सैय्यद फारुख अली को बैकबोन का डायरेक्टर दर्शाया। इस अनुबंध पत्र में 1233 वर्गफीट क्षेत्रफल का 109 नंबर का प्लाट देने की बात कही गई है। प्लाट का कब्जा जनवरी 2014 में देने का वादा किया गया था, लेकिन हकीकत यह है कि सेमरा में जिस स्थान पर रिंग पार्क कॉलोनी बनाने का वादा किया गया था, वहां अब तक कोई निर्माण कार्य ही नहीं किया गया है। 

अकील हुसैन और फारुख अली का कोई अता पता नहीं हैं। नासिर हुसैन पिछले दो साल से राजेश हंसारी को पैसा लौटाने की बात कह कर टालमटोली करता आ रहा है। इससे परेशान होकर राजेश हंसारी बैकबोन बिल्डर के भानपुर ओवरब्रिज स्थित कार्यालय में पैसे वापस मांगने पहुंचे तो पता चला कि यह बिल्डर ने अपना बुकिंग दफ्तर ही बंद कर दिया है। ठगी का शिकार हुए राजेश हंसारी ने बताया कि उनका 18 साल का बेटा किड़नी की बीमारी से पीड़ित है, उसके इलाज में सारी जमा पूंजी खर्च हो चुकी है, उसके इलाज के लिए धन की जरूरत है लेकिन बिल्डर अब न तो उनसे मिलता है, न ही फोन उठा रहा है।
-----------------------
हमें कॉलोनी निर्माण के लिए मंजूरी समय पर नहीं मिली इस कारण देरी हुई है। इस समय पैसा नहीं लौटा सकता है, लेकिन कुछ महीनों के बाद मैं सभी का पैसा वापस लौटा दूंगा।
नासिर हुसैन, संचालक
बैकबोन बिल्डर

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week