Albendazole दवा खाने से 74 बच्चों की तबीयत खराब

Thursday, March 2, 2017

रायबरेली। मथुरा, रायबरेली व एटा में पेट के कीड़े मारने की दवा खाने से 74 बच्चों की तबियत बिगड़ गई। मथुरा में फरह और चौमुंहा के स्कूलों में बच्चों को दी गई थी। रायबरेली की सलोन तहसील के एक मदरसे में बच्चों ने यह दवा खाई थी। वहीं, एटा में एक इंटर कॉलेज में पांच छात्राओं की दवा खाते ही हालत खराब हो गई। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां से उपचार के बाद ज्यादातर को छुट्टी दे दी गई है।

मथुरा के फरह ब्लॉक के दीनदयाल धाम में स्थित गुलाब मेमोरियल पब्लिक स्कूल में सोमवार दोपहर को लंच के बाद बच्चों को पेट के कीड़े मारने की दवा (एल्बेडाजॉल) दी गई। सभी को एक-एक गोली दी गई थी।

दवा खाने के बाद अचानक लगने लगी सर्दी
दवा खाने के कुछ देर बाद ही बच्चों को सर्दी लगने लगी और पेट खराब होने लगा। स्वास्थ्य केंद्र में सूचना के बाद वहां से एंबुलेंस पहुंची और 36 बच्चों को अस्पताल ले आई। इधर, चौमुहा ब्लॉक के बरौली गांव में जूनियर हाईस्कूल में भी दवा खाते ही 25 बच्चों की तबियत बिगड़ गई। स्कूल के बच्चों को अस्पताल भेजा गया। सभी की हालत ठीक है।

रायबरेली की सलोन तहसील क्षेत्र में मंगलवार को पेट में कीड़े मारने वाली दवा अल्बेडा जोल खाने से एक मदरसे के 12 बच्चों की हालत अचानक बिगड़ गई। आनन-फानन बच्चों को पीएचसी पहुंचाया गया। इसमें से चार बच्चों को भर्ती कर उपचार किया गया, जबकि अन्य को छुट्टी दे दी गई।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं