अब 50 कुख्यात डाकुओं का गिरोह करेगा व्यापमं के व्हिसल ब्लोअर की रक्षा

Wednesday, March 1, 2017

ग्वालियर। व्यापमं घोटाले के व्हिसल ब्लोअर आशीष चतुर्वेदी और पुलिस सिक्योरिटी के बीच तनातनी तो सर्वविदित ही है। पिछले दिनों चर्चा आई थी कि आशीष को कट्टरपंथी संगठन की ओर से धमकी मिल रहीं हैं। ऐसे में समर्पण कर चुके चंबल के 50 कुख्यात डाकुओं का पूरा गिरोह व्यापमं के व्हिसल ब्लोअर की सुरक्षा करने के लिए आगे आया है। उनका कहना है कि यदि पुलिस कुछ नहीं कर सकती तो हम हैं ना। 

मलखान सिंह के मुताबिक हम बागियों ने तय किया कि ऐसे निडर आदमी का साथ देंगे। सरकार और पुलिस भले ही उसे सिक्युरिटी नहीं दें। आशीष ने बताया कि मलखान दद्दा खुद आकर मिले और बोले, चंबल के बीहड़ों में बागी रह चुके अभी भी 50 से ज्यादा लोग हैं। ऐसे लोगों को सरकार को डकैत कहती थी, लेकिन वे बागी थे। अब ये सभी बागी आशीष की हिम्मत से प्रभावित हैं और जल्दी ही उसके समर्थन में एक बैठक करने वाले हैं।

हाईकोर्ट के निर्देश पर मिली है सिक्युरिटी
अभी आशीष को हाईकोर्ट के निर्देश पर सरकार ने सिक्युरिटी गार्ड तो उपलब्ध कराया है, लेकिन गार्ड आशीष की सिक्युरिटी नहीं करना चाहते। तीन साल में उसके करीब 200 सिक्युरिटी गार्ड सरकार बदल चुकी है। आशीष का कहना है कि मैं साइकिल पर चलता हूं। उसके गार्ड साइकिल पर चलना अपनी शान के खिलाफ समझते हैं। इसका कारण यह भी है कि ज्यादातर गार्ड वीआईपी सिक्युरिटी के आदि हैं, जिसमें कारें और एसयूवी रहती हैं।

आशीष के साथ हो जाता है गार्डों का विवाद
आशीष के साथ कोई वीआईपी व्हीकल नहीं है। इसके कारण आए दिन पुलिस और आशीष में विवाद की स्थिति भी बनती है। अब तो सिक्युरिटी गार्ड उसकी 24 घंटे कैमरा लेकर वीडियो रिकार्डिंग भी करते हैं। आशीष बताते हैं कि उनकी बहन की शादी है और उन्होंने अपने गार्ड से ही अनुरोध किया कि वे ही शादी की रिकार्डिंग कर लें। आखिर वे 24 घंटे तो कैमरे से निगरानी रखते ही हैं। ऐसे में थोड़ी जयादा मेहनत करके वीडियो रिकार्डिंग कर लें।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं