2 संघ प्रचारक आतंकवादी निकले, अब भगवा आतंकवाद पर बहस करो: कांग्रेस

Thursday, March 9, 2017

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के.के. मिश्रा ने अजमेर शरीफ दरगाह बम विस्फोट में एनआईए मामले की जयपुर विशेष न्यायालय द्वारा बुधवार को दिए गए फैसले में 7 आरोपियों को बरी करते हुए दो संघ प्रचारकों सहित तीन आरोपियों को दोषी करार किये जाने के बाद कहा है कि भगवा आतंकवाद को लेकर शायद देश में यह पहला अवसर है जब ‘‘ऊंट पहाड़ के नीचे आया है!’’ इससे संघ का वास्तविक चाल, चरित्र व चेहरा उजागर हो गया है। 

उन्होंने कहा कि हालांकि सजा 16 मार्च को सुनाई जायेगी, पर कोर्ट के इस ताजा पारित आदेश ने कथित देशभक्तों-संघ प्रचारकों के वास्तविक देशप्रेम-राष्ट्रभक्ति, राष्ट्रनिर्माण, चरित्र और संस्कृति की पैरोकारी पर उठने वाली उँगलियों पर प्रामाणिकता की मोहर लग गई है।

श्री मिश्रा ने कहा कि देश में राजनैतिक आतंकवाद के कारण महात्मा गांधी जी की हुई पहली हत्या, बाबरी विध्वंस, अजमेर दरगाह विस्फोट से इस फैसले में दोषी करा संघ प्रचारक सुनील जोशी की हुई हत्या और इस फैसले को लेकर बुधवार को पारित कोर्ट के आदेश के देश में भगवा ब्रिगेड और भगवा आतंकवाद को लेकर सार्वजानिक बहस प्रारम्भ होना हमारी ‘‘सहिष्णुता, वसुधैव कुटुम्बकम्, सर्वधर्म समभाव’’ और भारतीय संविधान में उल्लेखित मूल मानवीय भावनाओं के व्यापक हितों में जरुरी है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week