क​रगिल शहीद की बेटी ने लिखा: मेरे DAD को पाकिस्तान ने नहीं मारा

Monday, February 27, 2017

नई दिल्ली. एबीवीपी के खिलाफ हाल ही में सोशल मीडिया पर कैम्पेन चलाने वाली करगिल शहीद की बेटी गुरमेहर कौर ने अब ट्विटर पर वीडियो पोस्ट किया है। इस वीडियो में गुरमेहर एक तख्ती के साथ नजर आईं। इस पर लिखा था, "मेरे पिता को पाकिस्तान ने नहीं, जंग ने मारा था।" गुरमेहर ने यह आरोप भी लगाया कि उन्हें एबीवीपी की ओर से रेप की धमकियां मिल रही हैं। गुरमेहर लेडी श्रीराम कॉलेज की स्टूडेंट हैं। 

न्यूज एजेंसी ने गुरमेहर के एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू के हवाले से बताया है कि उसे धमकी भरे मैसेज मिल रहे हैं। कौर का कहना है, "सोशल मीडिया पर मुझे काफी धमकी मिल रही है। मुझे लगता है कि यह बहुत डरावना है, जब लोग आपको हिंसा या रेप की धमकी देते हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवाद के नाम पर रेप की धमकी देना सही नहीं है। मेरे कैम्पेन से नाराज लोग मेरी फ्रेंड्स को भी रेप की धमकिया दे रहे हैं। मुझे एंटी-नेशनल कहा जा रहा है और मेरा मजाक उड़ाया जा रहा है।

मैं न तो डरूंगी और न ही झुकूंगी
बाद में मीडिया से बातचीत में गुरमेहर ने कहा, "मैं न तो डरूंगी और न ही झुकूंगी, मेरे पिता ने देश के लिए गोली खाई और मैं भी देश के लिए गोली खाने के लिए तैयार हूं। पत्थर उमर खालिद पर नहीं फेंके गए थे, वह वहां मौजूद ही नहीं था, पत्थर स्टूडेंट्स पर बरसाए गए थे, जो वहां मौजूद थे। मैं अपने देश और अपने साथियों को प्यार करती हूं और मैं उनके बोलने की आजादी का सपोर्ट करती हूं। ABVP या कोई भी छात्र संगठन हो, किसी को हक नहीं है कि वो कानून-व्यवस्था अपने हाथ में ले।

क्या है मामला?
पिछले दिनों दिल्ली के रामजस कॉलेज में बुधवार को AISA और ABVP के सपोर्टर्स के बीच भारी हिंसा हुई थी। यह झगड़ा पुणे तक पहुंच गया। इस हिंसा के खिलाफ गुरमेहर ने 22 फरवरी को अपना फेसबुक प्रोफाइल पिक्चर बदला। नए प्रोफाइल फोटो में वे एक तख्ती पकड़ी हुई नजर आईं। उस पर #StudentsAgainstABVP हैशटैग के साथ लिखा- "मैं दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ती हूं। ABVP से नहीं डरती। मैं अकेली नहीं हूं। भारत का हर स्टूडेंट मेरे साथ है।"

गुरमेहर ने पोस्ट में लिखा- "ABVP का बेगुनाह स्टूडेंट्स पर किया गया हमला परेशान करने वाला है और इसे रोका जाना चाहिए। यह हमला प्रोटेस्ट कर रहे लोगों पर नहीं था, बल्कि यह डेमोक्रेसी के हर उस विचार पर हमला था, जो हर भारतीय के दिल के करीब है। यह आदर्शों, आजादी और देश के हर शख्स के हक पर हमला था। जो पत्थर तुम फेंकते हो, वे हमारे शरीर को चोट पहुंचाते हैं, लेकिन ये हमारे आदर्शों को चोट नहीं पहुंचा सकते। यह प्रोफाइल फोटो डर और नाइंसाफी के खिलाफ विरोध जाहिर करने का मेरा अपना तरीका है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week