कमलनाथ: मंत्रालय छिन गया लेकिन नेमप्लेट नहीं हटाई

Sunday, February 26, 2017

भोपाल। मप्र में सीएम की कुर्सी पर निगाहें गड़ाए आगे बढ़ रहे छिंदवाड़ा के सांसद कमलनाथ को सत्ता का लोभ इस कदर है कि यूपीए सरकार को पूर्व हुए ढाई साल बीत गया लेकिन वो अब भी खुद को भारत सरकार का मंत्री बता रहे हैं। याद दिला दें कि कमलनाथ, यूपीए की मनमोहन सरकार में मंत्री हुआ करते थे। सरल शब्दों में आप कह सकते हैं कि कमलनाथ का मंत्रालय छिन गया लेकिन उन्होंने अपने बंगले के सामने से मंत्री वाली नेमप्लेट नहीं हटाई। ऐसा अक्सर वही करते हैं जिन्हे पुरानी याद बहुत सतातीं हैं। 

कमलनाथ के ट्वीटर अकाउंट के मुताबिक वे आज भी देश की मोदी सरकार में शहरी विकास और संसदीय कार्यमंत्री बने हुए हैं। उनके फॉलोअर्स में पीएमओ, आइएनसी इंडिया, संजय झा और विथ कांग्रेस भी हैं। उनके इस अकाउंट में मकर संक्रांति और पोंगल की बधाई भी दी गई है, उसके बाद से कोई गतिविधि दर्ज नहीं है। इन सभी बातों की तस्दीक कर रहा है कमलनाथ का ट्विटर एकाउंट, जिसमें उनके प्रोफाइल में लिखा है-यूनियन मिनिस्टर ऑफ पार्लियामेंट्री अफेयर्स एंड मिनिस्टर ऑफ अर्बन डेवलपमेंट, इंडिया। मेंबर ऑफ पार्लियामेंट छिंदवाड़ा मध्यप्रदेश। हालांकि, फेसबुक पर उनका अकाउंट अपडेटेड है। 

उनके ही नाम से एक और दूसरा अकाउंट भी है ट्विटर पर। जिसके प्रोफाइल में लिखा है- यूनियन मिनिस्टर फॉर रोड एंड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवेज, गवर्नमेंट ऑफ इंडिया एंड एक्टिव पॉलिटिशियन। मेंबर ऑफ पार्लियामेंट फ्रॉम छिंदवाड़ा।

पिछले लोकसभा चुनाव के बाद से सियासी दलों के नेता सोशल मीडिया पर तेजी से अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं। टीवी और अखबार भी सोशल मीडिया की खबरों को खूब तवज्जो दे रही है। चुनावी मौसम में सोशल मीडिया वोटरों तक पहुंचने का सबसे आसान और सटीक माध्यम बनता जा रहा है। ऐसे में कमलनाथ का ट्वीटर अकाउंट यह दर्शाता है कि कांग्रेस के कुछ बड़े नेता आज भी सोशल मीडिया से कितने दूर और आउटडेटेड हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं