जो गलियों में डोले वो कच्चा गधा है, जो माइक ने चीखे वो असली गधा है: विश्वास

Sunday, February 26, 2017

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गधे का जिक्र क्या कर डाला। अब यह राष्ट्रीय विषय बन गया है। दिग्विजय सिंह के बाद अब आप नेता कुमार विश्वास ने भी गधों पर एक कविता सुनाई है। आप नेता और कवि बीच डॉ. कुमार विश्वास का एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो में कुमार कह रहे हैं, 'ये फाल्गुन का महीना है और लोकतंत्र का महापर्व चुनाव चल रहा है लेकिन वैशाख नंदन गधा इस समय अनायास ही प्रसंग में है, चर्चा में है, मुझे हिंदी कवि सम्मेलनों के आचार्य हास्य कवि स्व. ओम प्रकाश ‘आदित्य’ की एक लोकप्रिय कविता याद आ गई।'

कुमार विश्वास आगे कह रहे हैं, ‘उन्होंने सैकड़ों बार हम सब के सामने इसका वाचन किया, और हमने बड़े आनंद के साथ इस कविता का पाठ सुना, लेकिन कविता आज इतनी प्रासंगिक होगी बड़ा आश्चर्य है, आपकी सेवा में प्रस्तुत करता हूं…’ विश्वास ने 2 मिनट 31 सेकेंड के इस वीडियो को अपने ट्विटर हैंडल पर भी शेयर किया है।

गधे का प्रचार न करें सदी के महानायक : अखिलेश
आपकों बता दें कि अभी हाल में ही यूपी चुनाव के दूसरे चरण के दौरान यूपी के सीएम अखिलेश यादव के बयान, ‘गधे का प्रचार न करें सदी के महानायक’ पर सियासी संग्राम छिड़ गया है। 

पीएम मोदी का अखिलेश पर पलटवार
बहराइच में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि आप मोदी और बीजेपी पर हमला करो तो समझ सकता हूं, लेकिन अब आप गधे पर हमला कर रहे हो? गधे से भी डर लगने लगा है क्या? पीएम ने कहा, मैं गर्व से गधे से प्रेरणा लेता हूं और देश के लिए गधे की तरह काम करता हूं। सवा सौ करोड़ देशवासी मेरे मालिक हैं. गधा वफादार होता है उसे जो काम दिया जाता है वह पूरा करता है।

शिवराज का अखिलेश पर निशाना
अखिलेश यादव के इस बयान पर एमपी के सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि, 'ये मोदी का ही टेलेंट है कि सेंचुरी में गधों को पाला गया, जिसे जनता टिकट लेकर देखने जाती है। यानी, गुजरात के गधे भी सरकार के लिए कमाई करते हैं, जबकि यूपी में युवा भी बेरोजगार हैं। शिवराज ने चुटकी लेते हुए कहा कि गधों का अधिक नाम लूंगा, तो वास्तव में गधों का अपमान हो जाएगा'।

अखिलेश कुंठित होकर ऐसी बातें कर रहे हैं : गुजरात सीएम
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ‘गधे’ वाले बयान को उनकी कुंठा और निराशा का सूचक बताया। रुपाणी के मुताबिक, अखिलेश को चुनावों में होने वाली अपने पराजय का पता चल गया है और इसलिए वे निराश हैं और कुंठित होकर ऐसी बातें कर रहे हैं।
कुमार विश्वास का वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें
या फिर नीचे दी गई लिंक पर कॉपी करके यूआरएल बार में खोलें
https://goo.gl/3RGZW9

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week