वेतन नहीं मिला तो कर्मचारियों ने बैंक में ही ताला जड़ दिया

Friday, December 2, 2016

फरीदाबाद/पलवल।। नोटबंदी के 23वें दिन बाद बैंकों में नगदी किल्लत में सुधार नहीं हुआ है। शहर में वेतन की तारीखें होने के चलते कर्मचारी अपना वेतन निकासी के लिए बैंकों और एटीएम के सामने कई-कई घंटों तक लाइन में खड़े रहे लेकिन नगदी किल्लत के चलते लोगों को बैंकों से वेतन नगदी नहीं मिल सकी और एटीएम भी जल्द ही बंद हो गए। गुस्साए लोगों ने कई इलाकों में बैंकों के बाहर खूब शोर-शराबा किया। पलवल के बहीन गांव में गुस्साए लोगों ने सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक के गेट पर ताला जड़ दिया और जमकर प्रदर्शन किया। इसी प्रकार दीघोट के ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स के कर्मचारियों की लोगों ने घेराबंदी की। पुलिस ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए कहीं सख्ती तो कहीं शांति से काम किया।

जिला अग्रणी बैंक के प्रबंधक के मुताबिक जिले में गुरूवार को कुछ बैंकों में नगदी का संकट रहा। जिले की बैंक शाखाओं के करीब 26 करोड़ रुपये की नगदी लोगों को जारी की गई। जिले में कुल 661 एटीएम में से करीब 255 एटीएम चालू रहे। शहर के बैंकों में प्रबंधकों ने भीड़ को काबू करने के लिए टोकन व्यवस्था की। तो कुछ ने मोबाइल पर अपने ग्राहकों को नगदी के लिए मैसेज भी भेजे। 

बीके चौक स्थित एचडीएफसी बैंक में केवल उन्हें की बैंक में अंदर बारी-बारी से बुलाया गया जिनके पास टोकन था। रेलवे रोड स्थित ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स में भी टोकन से ही ग्राहक को अंदर जाने दिया गया। यहां भी कुछ कर्मचारियों को अपने वेतन की कुछ नगदी लेने में कामयाबी मिली। आंध्रा बैंक में अपना वेतन निकालने आए रोहित ने बताया कि वेतन बैंक में आ गया है। लेकिन अभी तक बैंक से नहीं मिला है। विजया बैंक में नगदी नहीं है। इसलिए वेतन नगदी लेने आए लोगों को मायूस वापस लौटना पड़ा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week