कमीशन के बदले नोट बदलकर लाने वालों को रोकने नए नियम - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

कमीशन के बदले नोट बदलकर लाने वालों को रोकने नए नियम

Tuesday, November 15, 2016

;
नई दिल्‍ली। देशभर में नोटबंदी के बाद से ही बैंकों और एटीएम मशीनों पर भारी भीड़ नजर आ रही है। कुछ लोग एक से ज्‍यादा बार आकर अपने नोट बदलवा रहे हैं। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने एक नया एक्‍शन लिया है।

इस प्लान के तहत बैंक में नोट बदलवाने आने वालों को मतदान केंद्र की तरह उंगली पर स्‍याही लगाई जाएगी ताकि वो बार-बार ना आ सकें। ऐसे में उन लोगों को मौका मिलेगा जो लगातार लाइन में खड़े रहने के बाद भी पैसा जमा या निकाल नहीं पा रहे हैं।

इस बारे में जानकारी देते हुए वित्‍त सचिव शक्तिकांत दास ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करते हुए कहा कि नोटबंदी के बाद बैंकों में लगातार भीड़ देखी जा रही है। कुछ लोग गरीब लोगों को लालच देकर गैंग बना रहे हैं और उन्‍हें बार-बार बैंक में नोट बदलवाने भेज रहे हैं। ऐसे में दूसरों को मौका नहीं मिलता, इससे निपटने के लिए बैंक में नोट बदलवाने और निकासी के लिए आने वालों की उंगली पर इंक लगाई जाएगी।

जनधन खातों पर भी नजर
दास ने आगे कहा कि यह भी देखने में आ रहा है कि सरकार द्वारा आम आदमी के खुलवाए गए जनधन खातों का गलत उपयोग हो रहा है ऐसे में सरकार उन पर भी नजर रखी जा रही है। अगर उनमें 50 हजार से ज्‍यादा रकम जमा हो रही है तो कार्रवाई होगी।

पुराने नोट ना लेने वाले अस्‍पतालों पर कार्रवाई होगी
वित्‍त सचिव ने अस्‍पतालों द्वारा पुराने नोट ना लिए जाने की शिकायतों को लेकर कहा कि सभी सरकारी अस्‍पताल तय तारीख तक नोट लेने के लिए बाध्‍य हैं और अगर कोई ऐसा करने से मना करता है तो उसकी जानकारी दें हम कार्रवाई करेंगे।

नोट का रंग ना निकले तो समझो नकली
उन्‍होंने नोट के रंग निकलने की खबरों को लेकर कहा कि पुराने सभी नोटों पर विशेष इंक का उपयोग किया जाता है और उस इंक का नेचर ही होता है कि वो निकलती है। जब आप उसे गीले कॉटन से रगड़ेंगे तो वो इंक थोड़ी सी निकलेगी अगर ऐसा नहीं होता है तो मान लें वो नोट नकली है। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)
;

No comments:

Popular News This Week