भोपाल एनकाउंटर के समय पुलिस वायरलेस पर चल रही बातों का आॅडियो लीक - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

भोपाल एनकाउंटर के समय पुलिस वायरलेस पर चल रही बातों का आॅडियो लीक

Thursday, November 3, 2016

;
भोपाल। जेल से फरार हुए आतंकवादियों के एनकाउंटर के समय पुलिस के वायरलेस सेट पर चल रहीं बातों का आॅडियो लीक हो गया है। ईटीवी ने इस आॅडियो को जारी किया है। इसमें पुलिस कंट्रोल रूम और मौके पर मौजूद अधिकारियों के बीच चल रही बातचीत रिकॉर्ड हुई है। आइए पढ़ते हैं, क्या बातचीत रिकॉर्ड हुई है इस आॅडियो में

शुरूआत में सुनाई दे रहा है कि, 'गो अहेड। बिलकुल पीछे नहीं हटना है। घेर कर पूरा काम कर दो तमा।.' फिर थोड़े शोर के बाद आवाज आती है, 'पटेल साहब चटका दो..'

मौके पर मौजूद अधिकारी: क्या पांचों साथ में भाग रहे हैं?
कंट्रोल रूम: हां, पांचों साथ में भाग रहे हैं।
मौके पर मौजूद अधिकारी: बिलकुल पीछे नहीं हटना है। घेर के पूरा कर दो काम तमाम।
मौके पर मौजूद अधिकारी: अरे वो भी फायरिंग कर रहे हैं। हां वो भी गोलियां चला रहे हैं।
कंट्रोल रूम: प्रॉपर पोजीशन लेकर फायरिंग करो। यदि उन्होंने फायरिंग की है तो उन्हें छोड़ना नहीं है। उधर से दूसरी पार्टी आ रही है। प्रॉपर पोजीशन लेकर फायरिंग करो, जिससे क्रॉस फायर न हो।
मौके पर मौजूद अधिकारी: चौहान साहब पांच मर गए हैं, पांच को गोली लग गई है।
कंट्रोल रूमः कोई बात नहीं है, शाबाश, हम पहुंच रहे हैं।
मौके पर मौजूद अधिकारी: हमने उन्हें पहाड़ी की चोटी पर घेर लिया है।
कंट्रोल रूम: बहुत बढ़िया, क्या पांचों मर गए हैं।
मौके पर मौजूद अधिकारी: हां सभी पांचों मारे गए हैं।
कंट्रोल रूम: शाबाश, बचे हुए तीनों को भी नहीं छोड़ना है, मार डालो।
मौके पर मौजूद अधिकारी: यहां दो-तीन एंबुलेंस भेजो।
कंट्रोल रूम: चिंता मत करो, आपके बोलने से पहले ही एंबुलेंस रवाना कर दी गई है।
मौके पर मौजूद अधिकारी और कंट्रोल रूम: बस उन्हें मार डालो। यदि ये घायल होते हैं तो हमें उनका अस्पताल में ध्यान रखना पड़ेगा। अगर नहीं मर रहे हैं, तो मार डालो सालों को।
मौके पर मौजूद अधिकारी: साहब बोल रहे हैं सबको मार डालो।
कंट्रोल रूम: पांच मर चुके हैं, सभी को मार डालो।
मौके पर मौजूद अधिकारी: सेट पर तो ऐसे ही अधिकारी होने चाहिए यार।
कंट्रोल रूम: लोग भोपाल पुलिस को आने वाले दस सालों तक याद रखेंगे।
मौके पर मौजूद अधिकारी: वो कह रहे हैं कि कम से कम एक को जिंदा रखो, क्या होगा यदि हम सबको मार डालें।
कंट्रोल रूम: नहीं, नहीं, नहीं वो भी फायर कर रहे  है ना... हम कह सकते हैं कि हमें हथियार मिले हैं।
मौके पर मौजूद अधिकारी: सर हमने सभी आठों को मार डाला।
कंट्रोल रूम: सभी पुलिसकर्मी के खुशी जाहिर करने की आवाज।
मौके पर मौजूद अधिकारी: डीसपी क्राइम ने अभी सूचना दी है कि आठों मारे गए हैं। बड़ी उपलब्धि। बधाई हो।
मौके पर मौजूद अधिकारी: हमने उन्हें घेर लिया है। वो यहां बीच में पड़े हुए हैं।
कंट्रोल रूम: हंसने की आवाज
मौके पर मौजूद अधिकारी: जो बाकी फोर्स पहुंच रही है उनको ऊपर आने की जरूरत नहीं है, बता दो अगर कुछ और फर्जी ऑपरेशन करना पड़े तो
कंट्रोल रूम: अब मैं न्यूज देखूंगा। मुझे यकीन है कि मीडिया अब तक मौके पर नहीं पहुंचा होगा।
कंट्रोल रूम: मीडिया का दम नहीं है, जब मर जाएंगे, ले आएंगे तब मीडिया आएगी।
कंट्रोल रूम: हम पहुंच रहे हैं, हम पहुंच रहे हैं, चिंता मत करो।
कंट्रोल रूम: अब खेल खत्म हो चुका है, खेल खत्म हो चुका है, अब आठों मरेंगे।
;

No comments:

Popular News This Week