नोटबंदी का विरोध करने वाले राष्ट्रद्रोही, संत समाज मोदी के साथ: रामदेव

Monday, November 21, 2016

नईदिल्ली। नोटबंदी पर पीएम मोदी के फैसले का खुलकर समर्थन करते हुए पतंजलि आयुर्वेद कंपनी के प्रमोटर रामदेव ने कहा कि इसका विरोध करना राष्ट्रद्रोह जैसा है। उन्होंने कहा,'नोटबंदी आतंकवाद के खिलाफ सबसे बड़ा प्रहार है और इससे टेरर फंडिंग बंद हुई है।'

प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में रामदेव ने कहा कि नोटबंदी के फैसले का दूरगामी असर होगा। उनके साथ स्वामी अवधेशानंद और डॉक्टर प्रणव पंड्या भी मौजूद थे। रामदेव ने कहा, 'संत समाज राष्ट्रहित में लिए गए फैसले के साथ है।'

योद गुरु ने कहा कि नोटबंदी से नकली नोट का धंधा भी बंद हुआ है। नोटबंदी के निर्णय को देश के लिए फायदेमंद बताते हुए उन्होंने कहा, 'लोगों को सस्ता लोन मिलेगा।' गौरतलब है कि पीएम मोदी ने 8 नवंबर को 500 और 1000 के  पुराने नोट चलन से बाहर करने की घोषणा की थी। प्रधानमंत्री ने नोटबंदी के निर्णय को कालेधन के खिलाफ कार्रवाई करार दिया था।

इससे पहले नोटबंदी के बाद बैंक और एटीएम के बाहर लगी लंबी कतारों पर दिए बयान में रामदेव ने कहा था कि अगर जवान बिना खाए कई दिन तक सीमा पर लड़ सकते हैं, तो धैर्यपूर्वक अपनी बारी का इंतजार करने वाली जनता राष्ट्र के लिए इतना कर सकती है। उन्होंने कहा,'जंग के दौरान, हमारे सैनिक 7-8 दिन तक बिना खाए लड़ते हैं।  हम अपने देश के इतना नहीं कर सकते।'

बाबा रामदेव ने हाल ही में कहा था कि नोटबंदी जैसा ऐतिहासिक निर्णय लेने की वजह से पीएम मोदी की जान को आतंकवादियों और ड्रग माफिया समेत आर्थिक अपराधियों से खतरा है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि सरकार के साथ सहयोग करें। कुछ दिन की परेशानी बर्दाश्त करने के बाद देश की अर्थव्यवस्था में सुधार होगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week