लाइन में लगी पब्लिक को भगाकर चुपके से कालाधन बदल रहा था बैंक मैनेजर - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

लाइन में लगी पब्लिक को भगाकर चुपके से कालाधन बदल रहा था बैंक मैनेजर

Monday, November 14, 2016

;
नोएडा। नोटबंदी के बाद शुरूआती 2 दिनों तक तो बैंकों में आम नागरिकों को मदद दी गई, लेनिक अब माहौल बदलने लगा है। यहां फेज दो स्थित ओबीसी (ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स) के मैनेजर ने लाइन में लगी पब्लिक को यह कहकर भगा दिया कि नोट खत्म हो गए हैं और फिर करीबी लोगों को बुलाकर बिन आईडी के नोट बांटने लगा। उसने प्रतिव्यक्ति एक लाख और इससे भी ज्यादा नोट बांटे। कलेक्टर ने केंद्र सरकार को रिपोर्ट भेज दी है। मंगलवार को बैंक खुलने तक मैनेजर के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो पुलिस की निगरानी में कैश बांटा जाएगा।

एटीएम के बाहर हंगामा, हवाई फायरिंग 
इससे पहले बड़े नोट बंद होने से नकदी का संकट झेल रहे लोगों का धैर्य रविवार को जवाब दे गया। बैंकों और एटीएम के बाहर अपार भीड़ उमड़ी, लेकिन कई लोगों को नोट के दर्शन नहीं हुए। इससे कई बार हंगामा और झड़पें हुईं। गुस्साए लोगों ने तोड़फोड़ भी की। बवाल के कारण पुलिस को हवाई फायरिंग तक करनी पड़ी।

शटर में ताला मारकर बचाए एटीएम 
पूर्वांचल के वाराणसी सहित सोनभद्र, बलिया, गाजीपुर, मऊ, आजमगढ़, जौनपुर, मीरजापुर, चंदौली और भदोही में भी दिनभर बैंकों में अफरातफरी रही। कहीं एटीएम खुले तो घंटे भर में शटर डाउन करना पड़ा तो कहीं बैंकों में नकदी खत्म होते ही ताला जड़ना पड़ा। मगर भीड़ की स्थिति जो तड़के शुरू हुई वह बैंक बंद होने तक जारी रही।

खाताधारकों ने जुलूस निकाला
वहीं मऊ जिले में इलाहाबाद बैंक शाखा गोला बाजार में पैसा खत्म होने की सूचना पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। केंद्र सरकार के खिलाफ जुलूस निकाला और जमकर नारेबाजी की। बवाल कर रही भीड़ को नियंत्रण के लिए पुलिस ने लाठियां भांजी, जिससे भगदड़ मच गई।
;

No comments:

Popular News This Week