भोपाल पुलिस ने खुद को सुरक्षा घेरे में बंद कर लिया - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

भोपाल पुलिस ने खुद को सुरक्षा घेरे में बंद कर लिया

Tuesday, November 22, 2016

;
भोपाल। जो पुलिस आम जनजीवन को सुरक्षा का एहसास दिलाती है, आज वही पुलिस अपनी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर रही है। अलर्ट मिला है कि भोपाल में घुस आए आतंकवादी पुलिस पर हमला कर सकते हैं। इसलिए पुलिस ने खुद को सुरक्षा घेरे में बांध लिया है। 

रविवार रात से पुलिस थानों से लेकर पुलिस कंट्रोल रूम और क्राइम ब्रांच से लेकर एसपी व आईजी ऑफिस तक में बैरिकेड्स के सुरक्षा घेरा बनाया दिया है। इंट्री गेट पर हथियार से लैस पुलिसकर्मी बिना काम के आने वालों को रोकते दिखा, जबकि काम से आने वालों के रजिस्टर में नाम, पते और मोबाइल फोन नंबर दर्ज करने के बाद ही अंदर जाने दिया गया। 

हालांकि सुरक्षा घेरा बनने से आने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा है। इधर, एमपी नगर थाने समेत कई पुलिस थानों के आसपास पार्किंग नहीं होने से भी लोगों को काफी परेशानी हुई। हालांकि पुलिस अधिकारी सोमवार को भी इसे इज्तिमा के पूर्व सुरक्षा की तैयारियों का जायजा लेने की प्रक्रिया बताते रहे।

व्यवस्था के पीछे यह भी एक तर्क
अधिकारियों का कहना है कि लोगों ने पुलिस के परिसरों को पार्किंग स्थल बना लिया है। इसे देखते हुए थानों और अधिकारियों के ऑफिस के कैंपस को चारों तरफ से बंद कर दिया गया है। केवल एक एंट्री गेट रखा गया है। इससे परिसर में आने वालों पर भी नजर रखी जा सकेगी।

सोमवार को भी चलती रही सर्चिंग
शनिवार-रविवार देर रात से राजधानी में शुरू हुआ सर्चिंग अभियान सोमवार को भी चलता रहा। पुलिस की बम निरोधक और डॉग स्क्वाड दस्तों से रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, मॉल और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर सर्चिंग होती रही। अचानक पुलिसकर्मियों की गतिविधियां बढ़ने से भी लोगों के मन में कई सवाल उठते रहे।

इज्तिमा के मद्देनजर सुरक्षा के इंतजाम
इज्तिमा के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए जा रहे हैं। संदिग्धों पर नजर रखने के साथ ही सर्चिंग अभियान चलाए जा रहे हैं, जिससे किसी भी अप्रिय घटना को रोका जा सके।
डॉ.रमन सिंह सिकरवार, डीआईजी भोपाल
;

No comments:

Popular News This Week