हम कालाधन बंद कर रहे हैं, वो भारत बंद करा रहे हैं: मोदी

Monday, November 28, 2016

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को कुशीनगर में कसिया हवाई पट्टी पर जनसभा को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि पैसे के लेनदेन में मोबाइल का प्रयोग करें। आप नोट के बिना भी पैसै का इस्तेमाल कर सकते हैं। मोदी ने कहा हम कालेधन का रास्ता बंद करने में लगे हैं और कुछ लोग भारत बंद करने में लगे हैं। सभा में मौजूद भीड़ को देखकर पीएम ने कहा, इतनी भीड़ तो पहले की सभा में भी नहीं हुई। दिल्ली की सरकार गरीब, गांव और किसानों को समर्पित है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 70 साल से देश के गरीब को लूटा। अब देश को नहीं लूटने देंगे।बिना पैसे के कारोबार चलाने की दिशा में सारी दुनिया चल पड़ी है, हम पीछे रह गए हैं। पर अब भारत पीछे नहीं रहेगा। 70 सालों तक की लूट का पैसा निकालकर गरीबों को बिजली और दवाई लाएंगे, आप सहयोग कीजिए देश में अब भ्रष्टाचार नहीं आने पाएगा।

बस 30 दिन और बाकी है
नोटबंदी पर पीएम  मोदी ने कहा, जो बड़े हैं उन्हें बड़ी तकलीफ होगी। जो लोग छोटे हैं, उन्हें छोटी-छोटी तकलीफ होगी। पीएम मोदी ने कहा कि जनता की भलाई के लिए ऐसा कठोर फैसला लिया। इसे लागू करना भी सरल नहीं है। पीएम मोदी ने कहा कि 50 दिन तकलीफ होगी। अभी 20 दिन हुए हैं, अभी 30 दिन बाकी है और सरकार आपकी तकलीफ दूर करने का पूरा प्रयास कर रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि लोगों को तकनीक धीरे-धीरे अपने आप आ गई। ऐसे ही जल्द ही कैश ट्रांसफर करना भी लोगों को आ जाएगा। इसी आसानी से बैंक में अगर खाता है, आप कुछ भी खरीद सकते हो। आपके हथेली में बैंक है। बटुए की जरूरत नहीं, मोबाइल में पैसे होते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि देश में आधे से ज्यादा लोग ऑनलाइन टिकट खरीद रहे हैं।

यहां गन्ना का किसान बहुत परेशानियों से गुजरा है। चीनी मिलें जीवन के लिए चुनौती बन गयी। मैं आपका सेवक हूं आपने मुझे बहुत दिया है। मैं उसका कर्ज चुकाने आया हूं। देने वाली सरकार नहीं आम जनता है।

चीनी मिल वाले आये थे कहा, साहेब दाम कम हो गये पैकेज दे दो।पहली मीटिंग में मैंने उनसे कहा कि जितना मांगोगे उतना देने के लिए तैयार हूं। वो खुश हो गये। मैंने बकाये का हिसाब मांगा। उनके पसीने छूट गये, फिर उन्होंने पैकेज से मना कर दिया।

सरकार ने फैसला किया  गन्ना किसानों का फायदा सीधे किसानों को मिलेगा। बिचौलिया बीच में नही आयेगा। समस्याएं आती है लेकिन उसके रास्ते भी खोजे जा सकते हैं। कुछ चीनी मिलें बंद थी उनका कहना था कि उन्हें नुकसान हो रहा है। हमने उन्हें इनेनॉल बनाने के लिए कहा  इससे काफी मदद मिली। हमने 100 करोड़ लीटर का इथेनॉल बना दिया है।

यूरिया के लिए किसानो को लंबी कतार लगती थी। उन्हें लाठी खानी पड़ती थी। यह बड़ा बदलाव कैसे आया। उस वक्त यूरिया किसानों के खेतों में नहीं केमिकल कारखानों में चला जाता था।
हमने यूरिया की नीमकोटिंग कर दी। कैमिकल के लिए यह यूरिया बेकार हो गया। पहले की सरकारें सब जानती थी। उन्हें किसान से ज्यादा पूंजीपतियों की चिंता था।

पीएम मोदी के रैली स्थल पर पहुंचने से पहले मंच को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा मायावती पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी के लाभ-हानि की चिंता मायावती न करें।

उनका खेल 2012 में ही खत्म हो चुका है, 2017 में बसपा का सूपड़ा साफ हो जाएगा। वहीं, सपा सरकार पर हमला बोलते हुए केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि केंद्र के विकास में प्रदेश सरकार रोड़ा अटका रही है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week