मप्र के व्यापारियों को पीओएस उपलब्ध कराएगी शिवराज सरकार - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

मप्र के व्यापारियों को पीओएस उपलब्ध कराएगी शिवराज सरकार

Saturday, November 26, 2016

;
भोपाल। प्रदेश के व्यापारियों को पॉइंट ऑफ सेलिंग (पी.ओ.एस.) मशीनें उपलब्ध करवाने पर विचार हो रहा है। श्री चौहान आज मुख्यमंत्री निवास में डिजिटल इंडिया अभियान लांचिग कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अभियान का संयोजन उच्च शिक्षा विभाग के 'कैम्पस टू कम्यूनिटी' कार्यक्रम में किया जा रहा है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और राष्ट्रीय सेवा योजना इसमें शामिल होंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अभियान के जागरूकता वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने के प्रयास कर रही है। कैशलेस ट्रांजेक्शन के लिये अपर मुख्य सचिव श्री दीपक खांडेकर की अध्यक्षता में उच्चस्तरीय समिति गठित की गयी है। रोजमर्रा के आर्थिक व्यवहार में नगदी की आवश्यकता को सीमित करने की कोशिश की जा रही है। प्रदेश के व्यापारियों को 5 लाख प्वाइंट ऑफ सेलिंग (पी.ओ.एस.) मशीने कैसे उपलब्ध करवाई जाये। इस पर गंभीरता पूर्वक विचार किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश तेजी से बदल रहा और आगे बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री श्री मोदी के डिजिटल इंडिया अभियान को सफल बनाने के प्रयासो में मध्यप्रदेश सबसे आगे है। प्रदेश में सरकार द्वारा छात्रों और किसानों को डायरेक्ट बेनीफिट स्कीम से लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि युग पुरूष प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने बड़े नोट बंद कर आतंकवाद की कमर तोड़ दी है। इससे कालेधन और भ्रष्टाचार की समस्या नियंत्रित हुयी है। उन्होंने कहा कि कालेधन, आतंकवाद और भ्रष्टाचार की समस्या का स्थायी समाधान डिजिटल इंडिया ड्राइव है।

श्री चौहान ने कहा कि आम जन द्वारा कैशलेस लेन देन को बढ़ावा देने के लिये सूचित और शिक्षित करने के प्रभावी प्रयासों की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जागरूकता अभियान की भूमिका महत्वपूर्ण है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस आर्थिक क्रांति को दूरस्थ अंचलों तक ले जाने में यह अभियान सफल होगा। क्योंकि अभियान के साथ राष्ट्रीय सेवा योजना के अनुशासित उत्साहित और राष्ट्रभक्त स्वयं सेवी जुड़े हैं।

उच्च शिक्षा मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया ने कहा कि दुनिया में भारतीय जनता की साक्षरता भले ही कम हो किन्तु समझदारी में वह दुनिया में सबसे आगे है। इसीलिये इस देश की जनता पेटी में मत डालने से शुरू कर, मुहर और अब बटन दबाकर निर्वाचन का कार्य सफलता पूर्वक कर रही है। उन्होंने कहा कि जीवन मूल्य और संस्कृति स्थाई होती है किन्तु सभ्यता और जीने के तरीकों को समय के साथ बदलना जरूरी होता है। इसी बदलाव का माध्यम डिजिटल इंडिया अभियान है। उन्होंने अभियान की सफलता के लिये संबंधितों को बधाई दी।

कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन और वंदेमातरम गायन से हुआ। प्रारंभ में स्वागत उद्बोधन स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के महाप्रबंधक श्री एस.के.सिंह ने दिया। आभार प्रदर्शन प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा श्री आशीष उपाध्याय ने किया। इस अवसर पर एस.बी.आई के मुख्य महाप्रबंधक मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ श्री टी.के.अजित सहित अन्य बैक अधिकारी एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के सदस्य छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।
;

No comments:

Popular News This Week