बच्चों के सामने विधवा महिला के हाथ-मुँह बाँधकर जिन्दा जलाया, परिजनों ने लगाया जाम

Friday, November 18, 2016

सिहोरा। गुरूवार की रात करीब 10 बजे विधवा महिला घर पर अपने बच्चों के साथ में सोने ही वाली थी तभी दो लोग दरवाजा खटखटा कर खुलवाये और महिला का मुंह दबा लिया और कपड़े से उसके मुँह और हाँथ बाँधने के बाद तेल डाल कर आग लगा दी जिसके बाद बगल के कमरे से बच्चों ने माँ को जलता देखा तो चीख-पुकार शुरू कर दी जिसे सुनकर पूरा मोहल्ला इक्कठ्ठा हो गया तब दोनों आरोपी बच्चों के चिल्लाने से भाग निकले। जिसके बाद जली हुई अवस्था में अस्पताल भेजा गया जिसकी दुसरे दिन शुक्रवार सुबह दस मौत हो गयी जिससे आक्रोसित परिजनों ने शव के NH 7 में रखकर शाम 4 बजे करीब जाम लगा दिया।

परिजनों से मिली जानकारी अनुसार गोसलपुर थाना के रामपुर गाँव में रितु केवट (28वर्ष)पति स्वर्गीय दीपू केवट अपने बच्चों सुहानी (10वर्ष) सावन (8वर्ष) के साथ में घर पर अकेली रहती थी तभी अचानक गुरूवार की रात में 10 बजे संदीप कोरी पिता बल्ली कोरी (25वर्ष) केवलारी (गांधीग्राम) निवासी अपने एक अन्य साथी के साथ आया और दरवाजा खटखटा कर खुलवाया जिसके बाद उन्होंने विधवा महिला के हाथ और मुंह में कपड़ा बाँधकर तेल डालकर आग लगा दी तभी बगल के कमरे से बच्चों ने अपनी माँ को जलते देखा तो बचाने के लिए शोर मचाना शुरू कर दिया तभी दोनों आरोपी बच्चों के शोर मचाने से भाग निकले जिनको भागते हुए मृतका की बुआ रेशमा  ने दोनों आरोपियों को भागते हुये देखा । महिला के जलने की जानकारी तत्काल परिजनों ने पुलिस को दी लेकिन आधे घण्टे बाद पहुंची पुलिस ने पंचनामा कार्यवाही करते हुये महिला को अस्पताल भिजवाया जिसने दुसरे दिन शुक्रवार की सुबह दस बजे ईलाज के दौरान दम तोड़ दिया तभी शाम 4 बजे करीब आक्रोशित परिजनों ने महिला के शव को एनएच-7 में रखकर आरोपी के खिलाफ कार्यवाही कर गिरफ्तार करने की मांग को लेकर जाम लगा दिया। और प्रशासन से बच्चों के भरण पोषण के लिए आर्थिक मदद करने की मांग की है। जिसके बाद पुलिस अधिकारीयों की समझाइस के बाद परिजन मान गए और शव का दाह संस्कार किया।

पिता के बाद माँ का साया भी उठा 
मृतका रितु केवट के पति दीपू केवट की एक वर्ष पहले ही बिमारी के चलते मौत हुई थी जिसके बाद वह अपने दोनों बच्चों सुहानी और सावन का एक मात्र सहारा था जो मजदूरी करके बच्चों को स्कूल भेजती थी और उनका भरण पोषण करती थी। लेकिन इन बच्चों की माँ रितु केवट की मौत के बाद इन दोनों बच्चों के सिर से पिता के बाद माँ का साया भी सिर से उठ गया है। जिसके बाद मृतका रितु के मायके वालों ने बच्चों के जीवन यापन के लिये आर्थिक मदद की मांग भी की है। 

पुलिस की गाडी चलाता था आरोपी
रितु केवट के मायके पक्ष के लोंगो ने पुलिस पर आरोप लगाते हुये बताया की आरोपी संदीप कोरी पिता बल्ली केवलारी निवासी गोसलपुर थाना की गाडी चलाता है और इसी वजह से पुलिस ने पक्षपात करते हुये कार्यवाही नही की है जिसके बाद परिजनों ने महिला के शव को हाइवे में रखकर जाम लगा दिया था जिसके बाद सिहोरा, खितौला, और गोसलपुर थाने का पुलिस बल मौके पर पहुंचकर परिजनों को समझाकर निष्पक्ष जांच कर कार्यवाही का आस्वाशन देकर जाम खुलवाया।और महिला का दाह संस्कार कराया।

जबकि इस पूरी वारदात के बाद गोसलपुर थाना प्रभारी लोकेन्द्र सिंह ने कहा की आरोपी अब पुलिस की गाडी नही चलाता है और इस पूरी वारदात में जो भी लोग हैं उन सभी पर कार्यवाही कर जल्द गिरफ्तार किया जायेगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं