गुडन्यूज: एटीएम और बैंक से नोट बदली की लिमिट बढ़ाई गई

Sunday, November 13, 2016

नईदिल्ली। सरकार ने रविवार को एटीएम और बैंकों से धनराशि निकासी की सीमा बढ़ाने की घोषणा की। वित्त मंत्रालय के मुताबिक अब एटीएम से लोग 2,000 रुपये की बजाय 2,500 रुपये निकाल सकेंगे। इसके साथ ही अब बैंकों में नोट बदलने की सीमा 4000 रुपये से बढ़ाकर 4500 रुपये कर दी गई है।

सरकार ने बैंकों से एक साथ नकदी निकालने वालों को भी थोड़ी राहत दी। अब लोग अपने खातों से एक सप्ताह में 20 हजार रुपये के स्थान पर 24 हजार रुपये निकाल सकेंगे। एक दिन में अधिकतम 10 हजार रुपये खाते से निकालने की सीमा भी हटा दी गई है। वहीं सरकार ने पेंशनरों के लिये सालाना जीवन प्रमाणपत्र जमा कराने की अंतिम तिथि नवंबर से बढ़ाकर 15 जनवरी कर दी है।

बार-बार नकद न निकालें: आरबीआई
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने लोगों से अपील की है कि वे बैंकों से बार-बार नकदी नहीं निकालें। केंद्रीय बैंक ने इसके साथ ही एक बार फिर लोगों को भरोसा दिलाया है कि छोटे नोटों की कोई कमी नहीं है। इसलिए वे हड़बड़ी न करें। रिजर्व बैंक ने एक एडवाइजरी जारी कर कहा, रिजर्व बैंक जनता को आश्वस्त करता है कि उसके पास और अन्य बैंकों में भी पर्याप्त छोटे नोट हैं। इसमें कहा गया है, रिजर्व बैंक लोगों से अपील करता है कि वे चिंतित न हों, बार-बार बैंकों से नकद निकासी कर इन्हें जमा न करें। आवश्यकता पड़ने पर नकद उपलब्ध होगा।

सोमवार को बंद रहेंगे बैंक
इस बीच, गुरुनानक जयंती की वजह से सोमवार को बैंक बंद रहेंगे। इसके मद्देनजर रविवार को भी लगातार चौथे दिन बैंकों और एटीएम पर लोगों की भारी भीड़ रही। रविवार की छुट्टी होने की वजह से लोग विभिन्न प्रतिष्ठानों में काम करने वाले कर्मी भी बैंकों लगी कतार में खड़े नजर आए। लोगों का कहना है कि एटीएम मशीन में 100-100 के नोट डाले जा रहा हैं। इसकी वजह से नोट जल्दी खत्म हो जा रहे हैं।

गौरतलब सरकार द्वारा 500 और 1,000 रुपये के नोटों को 8 नवंबर की मध्यरात्रि से अवैध घोषित करने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐलान के बाद गुरुवार को पहली बार बैंक खुलने से लेकर रविवार को लगातार चौथे दिन बैंकों और एटीएम बूथों के बाहर लोगों की भारी भीड़ उमड़ी हुई है। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं