नोटबंदी के कारण कश्मीर में पत्थरबाजी बंद

Tuesday, November 15, 2016

500 और 1000 के पुराने नोट पर बंदी के बाद रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर का बयान आया है। सोमवार को उन्होंने कहा कि उच्च मूल्य वाले नोट बंद करने के बाद आंतकवाद का वित्तपोषण खत्म हो गया है। अब सुरक्षा बलों पर पथराव नहीं हो रहा है। बता दें कि कश्मीर में सुरक्षाा बलों पर हमला करने के बदले इनाम दिया जाता था। 

मनोहर पर्रिकर ने कहा कि पहले हर चीज की दरें तय थी। सुरक्षा बलों पर पथराव के लिए पांच सौ रुपए और किसी दूसरे काम के लिए एक हजार रुपए। प्रधानमंत्री ने आतंकवाद के वित्तपोषण को खत्म कर दिया। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले नोटबंदी से प्रभावित होंगे।

बताते चलें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुए कहा, 'मैंने अगर भ्रष्टाचारियों पर लगाम कस दी तो कुछ गलत तो नहीं किया। 500 और 1000 का नोट बंद करने का निर्णय लिया वो भ्रष्टाचार की कमर तोड़ने के लिए है। क्या आप लोग इस पर मेरा साथ देंगे या नहीं? क्या आप थोड़ा कष्ट सहेंगे या नहीं? इस निर्णय के बाद से गरीब चैन की नींद सो रहा है कालेधन वाले नींद की गोलियां खाकर सो रहे हैं।'

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week