मध्य सत्र में युक्त युक्तिकरण शिक्षकों के साथ अन्याय

Sunday, November 13, 2016

श्योपुर। शिक्षा विभाग में शिक्षकों के युक्तयुक्तिकरण की कार्रवाई के निर्देश सत्र आरम्भ में ही आ गये लेकिन समय रहते विभाग ने कार्रवाई नही की। अब मध्य सत्र में विभाग के अधिकारियों  ने युक्तयुक्तिकरण की कार्रवाई करने की पहल की है। जिससे शिक्षकों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। 

प्रश्न यह उठता है कि शासन द्वारा निर्धारित तिथियों में युक्त युक्तिकरण की कार्रवाई सम्पादित करने के निर्देश जारी किये। निर्देशो के पालन में समय रहते कार्रवाई को अंजाम दिया गया होता तो शासन की मंशा के अनुरूप यक्तयुक्तिकरण की प्रभावी कार्रवाई पूर्ण हो जाती। शिक्षकों को परेशानी का सामना नही करना पड़ता। इस स्थिति के लिए उत्तरदायी कोन है। यह विचारणीय प्रश्न है।

मध्य सत्र में युक्तयुक्तिकरण शिक्षक एवं छात्र किसी के भी हित में नही है। इस कार्रवाई से शिक्षको में रोष एवं भय व्याप्त है। मध्य प्रदेश शिक्षक कांग्रेस मध्य सत्र में किये जाने वाले युक्तयुक्तिकरण का पुरजोर विरोध करती है तथा शासन एवं प्रशासन से मांग की जाती है कि मध्य सत्र में इस कार्रवाई को तत्काल प्रभाव से रोका जावे। मांग करने वालो में शिक्षक नेता जगदीश मिश्रा, उमेश सिकरवार, राजेश त्रिवेदी, खलील मोहम्मद, चेतन शर्मा, राजेंद्र सिंह जादौन ,राजेंद्र शर्मा ,राम राज लोखरे ,इवने अब्बास , जगन्नाथ शिवहरे ,  जनक दुलारी ,लीला शर्मा अशोक शिवहरे ,रमेश गुप्ता ,सीता राम गुप्ता ,नरेश शर्मा ,गजेंद्र रावत सेवक राम शर्मा प्रदीप मुदगल ,धीरज रावत एवं भवानी शंकर रावत आदि शामिल है। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week