बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे हैं सुनियोजित हमले: मानवाधिकार आयोग

Wednesday, November 2, 2016

कुछ समय पहले बंग्लादेश में हिंदुओं पर हमले की घटना सामने आ रही थी। इसे लेकर बंग्लादेश की राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने बुधवार को कहा कि ब्राह्मणबरिया के नसीरनगर में हिन्दू समुदाय पर बड़े पैमाने पर किए गए हमले सुनियोजित थे।

एनएचआरसी की एक समिति के प्रमुख इनामुल हक चौधरी ने दैनिक समाचार पत्र 'द डेली स्टार' से कहा कि बुधवार को क्षेत्र के दौरे के दौरान उन्होंने पाया कि हमले सुनियोजित थे। तीन सदस्यीय समिति बुधवार की सुबह नसीरनगर पहुंची और रविवार को हुए हमलों को लेकर मंदिर के पुजारियों और चश्मदीदों से बातचीत की। हमले में कम से कम पांच मंदिरों में तोड़फोड़ की गई थी और हिन्दुओं के लगभग 100 घरों में लूटपाट की गई थी।

भारतीय उच्चायोग के एक प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को प्रथम सचिव राजेश उइके के नेतृत्व में प्रभावित स्थलों का दौरा किया। हालांकि, उन्होंने संवाददाताओं से कोई बातचीत नहीं की। डेली स्टार के मुताबिक, एनएचआरसी और भारतीय उच्चायोग के प्रतिनिधिमंडल का दौरा तब हुआ है जब अज्ञात अपराधियों ने सोमवार रात चटगांव जिले के हाथाजारी उपजिला में मां दुर्गा की मूर्ति तोड़ दी और एक मंदिर के कीमती सामान लूट लिए।

घटना की जानकारी मंगलवार की सुबह तब हुई जब चौधरी हाट क्षेत्र के दशमहाविद्या मंदिर के पुजारी दुलाल डे मंदिर गए और दरवाजा टूटा हुआ पाया। हाथाजारी उपजिला पूजा उदजापन समिति के महासचिव रिमोन मुहुरी ने समाचार पत्र से कहा कि अपराधी मंदिर के तहखाने से स्वर्ण आभूषण और नगदी लूट कर ले गए। सूचना मिलने के बाद हाथाजारी पुलिस थाना के उप निरीक्षक कोमोल डे ने घटनास्थल का दौरा किया।

रसराज दास नाम के व्यक्ति ने फेसबुक पृष्ठ पर कथित रूप से मुस्लिम भावनाओं को आहत करने वाली सामग्री पोस्ट की थी। इसके बाद डंडे और धारदार हथियारों से लैस करीब 200 धार्मिक कट्टरवादियों ने ब्राह्मणबरिया के नसीरनगर के अनेक इलाकों में कम से कम पांच मंदिरों पर हमले किए और हिन्दुओं के करीब सौ घरों में तोड़फोड़ व लूटपाट की। हमलावरों ने सौ से अधिक लोगों की पिटाई भी की. रसराज दास को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। नसीरनगर में हिन्दुओं पर हुए हमले की घटना की जांच के लिए एनएचआरसी ने मंगलवार को एक तथ्यान्वेषण समिति का गठन किया था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं