आश्रम में होता था आदिवासी एवं निर्धन छात्राओं का रेप - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

आश्रम में होता था आदिवासी एवं निर्धन छात्राओं का रेप

Friday, November 4, 2016

;
नईदिल्ली। महाराष्ट्र के बुलढाणा में आदिवासी एवं निर्धन छात्राओं के लिए संचालित आश्रम स्कूल में कई लड़कियों के यौनशेाषण का मामला सामने आया है। इस आश्रम में रेप की वारदातें नियमित रूप से हो रहीं थीं। कई लड़कियां इसका शिकार हो चुकीं हैं। पुलिस ने 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। अभी इस मामले में काफी कुछ सामने आना शेष है। 

घटना बुलढाणा के खामगांव की है। यहां स्थित एक आश्रम स्कूल में कई बच्चियों के यौन शोषण की खबर से इलाके में हड़कंप मच गया। दरअसल मामले का खुलासा तब हुआ जब, आश्रम स्कूल में रह रही एक 13 साल की लड़की दिवाली की छुट्टी पर अपने घर गई थी। एक दिन अचानक लड़की के पेट में दर्द हुआ।

परिजन उसे डॉक्टर के पास ले गए, जहां डॉक्टरों ने परिजनों को लड़की के प्रेग्नेंट होने की जानकारी दी। परिजनों के पूछे जाने पर पीड़ित लड़की ने सारी बात बताई। पीड़ित लड़की ने बताया कि आश्रम में रह रही कई लड़कियों के साथ रेप किया गया है। पीड़िता के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने फौरन आश्रम के 7 कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस ने गुरुवार रात 4 और लोगों को गांव से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में संस्था के अध्यक्ष, प्रधानाध्यापक और कुछ कर्मचारी शामिल हैं। वहीं बच्चियों के साथ यौन शोषण का मुख्य आरोपी कर्मचारी इत्तू सिंह पवार अभी फरार है। पुलिस आरोपी की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है।

गौरतलब है कि पहले भी कई छात्राओं ने स्कूल प्रबंधन और महिला शिक्षकों से यौन शोषण की शिकायत की थी। मगर छात्राओं की इस गंभीर शिकायत को स्कूल प्रबंधन ने दरकिनार कर दिया था। डीजीपी सतीश माथुर ने एसआईटी गठित कर मामले की जांच के आदेश दिए हैं। डीजीपी ने जांच के बाद कई और नाम सामने आने की बात कही है। बताते चलें कि कथित आश्रम स्कूल लड़कियों के लिए चलाया जाता है। इस स्कूल में आदिवासी और गरीब लड़कियां पढ़ाई करती है।
;

No comments:

Popular News This Week