नोटबंदी: मात्र 500 रुपए में हो गई IAS अफसरों की शादी

Monday, November 28, 2016

;
भिंड। अब ये पता नहीं है कि ये नोटबंदी का असर है या प्यार का, लेकिन महज पांच सौ रुपये में एक शादी हुई है। दोनों ही आइएएस हैं और एक-दूसरे से प्यार करते हैं। 2014 में दोनों के बीच पहली नजर का प्यार हुआ था। लगभग दो साल एक-दूजे को परखा और सोमवार को हमेशा के लिए एक-दूजे को हो गये।

बात हो रही है 2014 के आइएएस आशीष वशिष्ठ और सलोनी सिडाना की। सलोनी भी आइएएस हैं। दोनों ने सोमवार को भिंड के एसडीएम कोर्ट में शादी कर ली है। इतना ही नहीं, इस शादी के गवाह बने हैं जिला कलेक्टर इलैया राजा और अन्य। दोनों ने रजिस्टर पर साइन किया और एक-दूजे को फूलों की माला पहना दी। 

दोनों का प्यार पहली नजर का था। मुलाकात हुई थी मसूरी के नेशनल एकेडमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन में। ट्रेनिंग के समय ही दोनों ने यह तय कर लिया था कि अब जिंदगी साथ में जीएंगे। बाद में आशीष को मध्यप्रदेश कॉडर मिला तो सलोनी को आंध्रप्रदेश। जहां आशीष जिला भिंड में गोहद में बतौर प्रोबेशनर आइएएस (एसडीएम) हैं तो सलोनी आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा में एसडीएम हैं। 

दोनों ने शादी के लिए भिंड के एडीएम कोर्ट में औपचारिक आवेदन दिया था। बाद में यह तय हुआ कि 28 नवंबर को शादी होगी। दोनों ही तय समय पर वहां पहुंचे और एडीएम ने सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद उनको पति-पत्नी घोषित कर दिया। बाद में आशीष ने बताया कि कोर्ट मैरिज की कागजी जरुरतों को पूरा करने के लिए पांच सौ रुपये खर्च हुए हैं। हमने तय कर लिया था कि बेहद सादगी से शादी करनी है। इसी के कारण हमने ये फैसला लिया है। सलोनी 2013 में आइएएस बनी थीं। सलोनी पंजाब की रहने वाली हैं और उनका परिवार व्यापार से जुड़ा हुआ है। आशीष ने भी 2013 में ही आइएएस की परीक्षा पास की थी।

इससे पहले यूपीएससी टॉपर टीना डाबी और दूसरे स्थान पर रहनेवाले अतहर ने भी शादी की घोषणा कर रखी है। जल्द ही दोनों की सगाई भी होने वाली है। अभी दोनों मसूरी में लाल बहादुर शास्त्री नेशनल एकेडमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन में ट्रेनिंग कर रहे हैं। जहां टीना दलित हैं तो अतहर कश्मीरी।
;

No comments:

Popular News This Week