व्यापमं: सहायक वर्ग 3 एवं स्टेनोग्राफर की भर्ती में योग्यता की शर्तें क्यों बदलीं

Tuesday, November 8, 2016

;
व्यापमं द्वारा आयोजित सहायक वर्ग 3 एवं स्टेनोग्राफर पद हेतु संयुक्त परीक्षा 2016 मे अनिवार्य योग्यता में हिन्दी मुद्रलेखन एवं शीघ्रलेखन परीक्षा परिषद् द्वारा पूर्व में जारी किए गए प्रमाण पत्रों की अनदेखी से आवेदको का भविष्य अंधकार मय हो गया है। सहायक वर्ग 3 की परीक्षा जो सितम्बर 2014 में आयोजित होना थी उसमें केवल मुद्रलेखन का प्रमाण पत्र अनिवार्य था। शासन की लापरवाही दो वर्ष से अधिक समय में परीक्षा के आयोजन ना हो पाने के कारण से कई आवेदक निर्धारित उम्र को पार कर चुके हैं और अब शासन के नए नियम में केवल CPCT का ही प्रमाण पत्र मान्य कर बाकी मुद्रलेखन प्रमाणपत्र धारको के साथ घोर अन्याय हो रहा हैं।

शासन द्वारा अभी तक किसी भी प्रमाण पत्र को इस तरह पूरी तरह आमान्य नहीं किया गया है। पुरानी पद्धति से ग्यारहवीं उत्तीर्ण छात्रों को 10़2 पद्धति से हायर सैकण्डरी ;12वीं के साथ सभी आवेदनों को भरने की अनुमति हमेशा प्रदान की गई है न कि पुरानी पद्धति से उत्तीर्ण आवेदकों की योग्यता को अमान्य किया गया फिर भी मुद्रलेखन उत्तीर्ण छात्रों के साथ ऐसा अन्या‍य क्यों। 

व्यापमं द्वारा आयोजित एमपी स्टेट कोऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन लिमिटेड भोपाल के विज्ञापन में अनिवार्य योग्यता नियम पुस्तिका में वर्णित शैक्षणिक अर्हता में स्पष्ट‍ रूप से वर्णित है कि मुद्रलेखन परीक्षा बोर्ड से उत्तीर्ण होने का प्रमाण पत्र, नियुक्ति के पश्चात परिवीक्षा अवधि समाप्ति के पूर्व CPCT प्रमाण पत्र प्राप्त किया जाना अनिवार्य होगा। इस तरह एक ही राज्य में एक समान पदों के लिए अलग अलग योग्याताओं को जारी कर आवेदकों के भविष्य से खिलवाड़ किया जा रहा हैं। 

आवदकों की मांग है कि सहायक वर्ग3 एवं स्टेनोग्राफर पद हेतु परीक्षा 2016 में हिन्दीं मुद्रलेखन उत्तीर्ण आवेदक को आवेदन भरने की अनुमति प्रदान की जाए। आवेदक नियुक्ति के पश्चा्त् परिवीक्षा अवधि समाप्ति के पूर्व CPCT प्रमाण पत्र प्रस्तु़त कर देगा।  

समस्त आवेदक
विवेक कुमार गुप्तां, आलिंद कुमार असाटी, महेश कुशवाहा, हेमन्त रैकवार, अनूप कुमार भारती, योगेश कुमार साहू, अवनी सिन्हाश, हेमन्त् चतुर्वेदी, कपिल यादव, नन्दर किशोर वर्मा, श्रीमती ज्योमति गुप्ता् एवं समस्त मुद्रलेखन उत्तीर्ण छात्रगण। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)
;

No comments:

Popular News This Week