पढ़िए 2000 के नोट में GPS chip का फायदा क्या होगा ?

Wednesday, November 9, 2016

;
नई दिल्‍ली। 500 और 1000 के नोटों को अमान्‍य घोषित करने के बाद हर तरफ अफरा-तफरी का माहौल है। कई ऐसे सवाल है जिसका जवाब अभी तक लोगों को नहीं मिल सका है। हालांकि घबराने की कोई बात नहीं है क्‍योंकि कल यानी कि 10 नवंबर को सरकार 500 और 2000 के नए नोट बैंक में उतार देगी और आप वहां से अपने पुराने नोटों को बदल सकते हैं।

कई जगह तो लोगों में 2000 रुपए के नोट को लेकर भी उत्सुकता है। लोग जानना चाह रहे हैं कि इस 2000 के नए नोट में क्‍या खास होगा। तो आईए आपको बताते हैं कि 2000 के इस नोट में क्‍या होगा सबसे खास।

काला धन से निपटने के लिए सरकार जो 2000 का नया नोट ला रही है उसपर नैनो जीपीएस (GPS) चिप लगी होगी। इस चिप से नोट का लोकेशन पता लगाया जा सकेगा। आपको बता दें कि नैनो जीपीएस चिप एक सिग्‍नल रिफलेक्‍टर की तरह काम करता है। सैटेलाइट से सिग्‍नल छोड़ने पर एनजीसी से रिफलेक्‍ट होगा जिससे लोकेशन का पता आसानी से चल जाएगा।

जमीन के अंदर भी होगा नोट तो भी चल जाएगा पता
सैटेलाइट सिग्‍नल से पता चलेगा कि किसी खास लोकेशन में कितने नोट हैं। आप जानकर दंग रह जाएंगे कि अगर 2000 का नोट जमीन के भीतर 120 मीटर गहरे गड्ढे में भी होगा तो भी यह सिग्‍नल पकड़ेगा। अगर आप चाहेंगे कि आप जीपीएस चिप को निकाल दें तो भूल जाईए क्‍योंकि नोट को नुकसान किए बिना चिप को निकाल पाना संभव नहीं होगा। ( पढ़ते रहिए bhopal samachar हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)
;

No comments:

Popular News This Week