13 साल की लड़की का 3 घंटे में 8 लोगों ने किया गैंगरेप

Friday, November 25, 2016

;
अहमदाबाद पुलिस ने गुरुवार रात को एक नाबालिग लड़की को देह धंधे में धकेलने वाले रैकेट से बचाने में कामयाबी पाई. 13 साल की लड़की का एक ही रात में 8 लोगों ने गैंगरेप किया था. लड़की ने पुलिस को बताया कि उसके पिता और उसकी सौतेली मां देह धंधे में धकेलने की कोशिश कर रही है.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि नाबालिग से गैंगरेप करने वाले 8 में से 4 आरोपी एक स्थानीय निजी यूनिवर्सिटी के छात्र हैं. इनमें से कुछ आरोपियों के पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है. लड़की के मां-बाप ने 21 नवंबर को उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. उन्होंने बताया कि लड़की 14 नवंबर से लापता है.

जोन सेवन डीसीपी विधि चौधरी ने बताया कि शिकायत दर्ज कराने पहुंचे मां-बाप पर उन्हें शक हुआ. उनसे पूछा गया कि बेटी के लापता होने के एक सप्ताह बाद रिपोर्ट दर्ज कराने आने की वजह क्या है? पूछताछ और जांच में दोनों ने कबूल लिया कि वह लड़की पर धंधे के लिए जोर डालते थे और 14 नवंबर को उन्होंने ही लड़की को एक ग्राहक के पास भेजा था.

चौधरी ने बताया कि इसके बाद पुलिस ने कई सुराग जुटाए और अहमदाबाद जिले के धोलका शहर के पास कालीकुंड गांव से लड़की को बरामद कर लिया. लड़की ने पुलिस को बताया कि देह धंधे से जुड़े एक रैकेट के हाथों में उसे देने की तैयारी की जी रही थी. लड़की के मां-बाप उसे एक शहर से दूसरे शहर ले जाकर धंधे के लिए मजबूर करते थे.

आरोपी छात्रों को हिरासत में लिया गया
लड़की ने खुद के साथ हुआ सनसनीखेज अपराध की जानकारी दी. 14 नवंबर की रात के बारे में उसने बताया कि आठ लोग लगातार तीन घंटे तक उसका रेप करते रहे. आरोपियों में से 4 बीएससी एग्रीकल्चर के छात्र हैं. चारों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

मानव तस्करी से जुड़ा हो सकता है मामला
लड़की ने कहा कि उसके मां-बाप ने चौथे क्लास के बाद उसकी पढ़ाई छुड़वा दी. वे लोग देह धंधे के रैकेट से लंबे अरसे से जुड़े हुए हैं. वे लड़की को दिल्ली से लेकर जयपुर, अहमदाबाद सहित कई शहरों में गए. उनके धंधे के तीन एजेंट अलग-अलग शहरों में उनके लिए ग्राहक तलाशते हैं. पुलिस ने कहा कि मामले को मानव तस्करी के नजरिए से भी जांचा जा रहा है.
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week