सर्जिकल स्ट्राइक के नाम पर 11 लाख की ठगी

Wednesday, November 2, 2016

;
इंदौर। शेयर ट्रेडिंग से जुड़े रिटायर्ड बैंक मैनेजर से छह बदमाशों ने 11 लाख रुपए ठग लिए। 7 लाख तो पाक के खिलाफ हुई सर्जिकल स्ट्राइक का झांसा देकर ठगे। मंगलवार को उन्होंने क्राइम ब्रांच को शिकायत दर्ज करवाई। आरोपी का पता द्वारकापुरी का निकला है।

दुलालचंद दत्त (59) निवासी बोराबागन लेन सिरामपुरा हुबली (पश्चिम बंगाल) मंगलवार को डीआईजी ऑफिस पहुंचे। उन्होंने बताया कि एक साल पूर्व यूनाइडेट बैंक ऑफ इंडिया से मैनेजर के पद से रिटायर्ड हुए हैं। इसके बाद शेयर ट्रेडिंग करने लगे। जून 2016 में आनंद शर्मा नामक व्यक्ति का कॉल आया। उसने खुद को कैपिटल मार्स नामक शेयर कंपनी का कर्मचारी बताया। उसने कहा कि वह मुफ्त में शेयर ट्रेडिंग से जुड़े टिप्स देता है। उसके बताए निर्देशों का पालन करने पर लाखों का फायदा होता है।

दत्त ने उसके टिप्स के मुताबिक रुपयों का निवेश किया तो कुछ दिन फायदा हुआ। लालच में उन्होंने लाखों रुपए निवेश किए। कुछ दिन में 4 लाख का घाटा हो गया। इस दौरान अशोक सेन, राहुल, धीरज, आकाश आदि भी बात करने लगे। आनंद ने कहा कि कुछ दिनों में लाखों का फायदा करवा दूंगा। दो महीने पूर्व अचानक कॉल आया। उसने कहा कि भारतीय सेना ने पाक में सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकियों पर हमला किया है।

इससे शेयर मार्केट डाउन हो गया। जितने रुपए हों, मार्केट में लगा दो। नुकसान से उबरने के लिए लाखों रुपए लगा दिए। दो दिन बाद 6 लाख 70 हजार रुपए का घाटा हो गया। अभी तक 11 लाख रुपए गवां चुका हूं। लाखों रुपए आरोपी खातों में जमा करवा चुके हैं।

एएसपी (क्राइम) के मुताबिक मामले की जांच की जा रही है। करीब 100 फर्जी कंपनियां इसी प्रकार लोगों के साथ ठगी कर रही हैं, जिनकी सेबी से जानकारी मांगी जा रही है। पिछले दिनों सेबी अफसरों के साथ बैठक कर संयुक्त कार्रवाई के लिए चर्चा भी की गई थी।

पत्नी और बेटे ताने देते थे
दत्त के मुताबिक मैं बर्बाद हो चुका हूं। खाते में सिर्फ 5 हजार रुपए बचे हैं। पत्नी सिवली और बेटा राज मुझे ताने देने लगे। मैं परेशान होकर घर से निकल गया। छोटे होटल और लॉज में ठहर कर समय गुजार रहा हूं। परिचित बैंक अफसरों की मदद से आरोपियों के खातों की जानकारी निकाली तो संतोष पाटीदार का नाम निकला। कंपनी में द्वारकापुरी का पता दर्ज है।
;

No comments:

Popular News This Week