मप्र: RSS ने किया इन्वेस्टर्स समिट में चीनी व्यापारियों का विरोध - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

मप्र: RSS ने किया इन्वेस्टर्स समिट में चीनी व्यापारियों का विरोध

Wednesday, October 19, 2016

;
इंदौर। भाजपा की शिवराज सरकार के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पिछले दिनों खुद चीन जाकर व्यापारियों को इन्वेस्टर्स समिट के लिए न्यौता दिया था। अब आरएसएस का एक अन्य संगठन 'स्वदेशी जागरण मंच' इसका विरोध कर रहा है। इन्वेस्टर्स समिट में चीन के व्यापारियों को बुलाने के विरोध में स्वदेशी जागरण मंच ने सूबे की भाजपा सरकार के उद्योग मंत्री और वित्त मंत्री के पुतले फूंके। बता दें कि भाजपा और स्वदेशी जागरण मंच, आरएसएस के नियंत्रण वाले संगठन हैं। 

स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने शहर के राजबाड़ा चौक पर उद्योग मंत्री राजेंद्र शुक्ल और वित्त मंत्री जयंत मलैया के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन में शामिल इंदौर-उज्जैन संभाग में संगठन के संयोजक सुरेश बिजोलिया ने कहा, ‘हम वैश्विक निवेशक सम्मेलन में चीनी नुमाइंदों को बुलाये जाने के सख्त खिलाफ हैं, क्योंकि भारत विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये चीन लगातार पाकिस्तान की आर्थिक मदद कर रहा है।’

उन्होंने चीन को ‘भारत विरोधी मुल्क’ करार देते हुए मांग की कि चीन की किसी भी कम्पनी को प्रदेश में इकाई लगाने के लिये एक इंच भी जमीन नहीं दी जानी चाहिये। उधर, प्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया यहां 15 अक्तूबर को स्पष्ट कर चुके हैं कि चूंकि चीनी नुमाइंदों को वैश्विक निवेशक सम्मेलन का आमंत्रण काफी पहले ही भेज दिया गया था। लिहाजा उन्हें इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने से ऐन वक्त पर रोकना उचित नहीं होगा।

राज्य के उद्योग मंत्री राजेंद्र शुक्ल ने 10 अक्तूबर को यहां एक बयान में कहा था, ‘हमारे देश में चीन के उस माल का विरोध किया जा रहा है, जो चीन में बनता है लेकिन अगर चीन की कम्पनियां मध्यप्रदेश में पूंजी लगाकर सामान बनाती हैं, तो इससे मेक इन इंडिया के कार्यक्रम को ताकत मिलेगी। चीनी कम्पनियों के निवेश से हमारे लोगों को रोजगार मिलेगा और प्रदेश सरकार को कर के रुप में राजस्व मिलेगा।'
;

No comments:

Popular News This Week